पीएम किसान योजना में 83 हजार किसानों को मिला लाभ

बहादुरगढ़. लाॅकडाउन के दौरान व्यापार के साथ-साथ इसका प्रभाव ग्रामीण क्षेत्रों में भी पड़ा है। लेकिन पीएम किसान योजना के तहत पैसा मिलने से किसानों को काफी लाभ हुआ है। अभी तक जिले के 83000 किसानों को 2000 की रकम उनके खातों के माध्यम से दी जा चुकी है। पीएम नरेंद्र मोदी ने देशभर के करोड़ों किसानों के लिए कई फायदे वाली योजनाएं शुरू की है। इन योजनाओं में प्रधानमंत्री किसान निधि योजना काफी अहम है। इस योजना के तहत सरकार किसानों के बैंक खातों में हर साल 6000 रुपए जमा करती है। यह राशि तीन बराबर किस्तों में किसानों के खाते में डाली जाती है। झज्जर में इस प्रकार से 87000 पंजीकृत किसानों में से 83000 किसानों को लाख की राशि मिली है जबकि अन्य के लिए प्रक्रिया जारी है।

ऑनलाइन देख सकते हैं अपने आवेदन की स्थिति
अगर किसी किसान ने योजना को फायदा लेने के लिए आवेदन किया है और अब अपना नाम लाभार्थियों की सूची में देखना चाहते हैं तो आपके लिए सरकार ने अब यह सुविधा ऑनलाइन भी मुहैया करा दी है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2020 की नई सूची को सरकारी वेबसाइट pmkisan.gov.in पर चेक कर सकते हैं।

गांव स्तर पर किए जा रहे फार्म ठीक

पीएम किसान योजना और काम करने वाले कर्मचारियों का कहना है कि हर गांव स्तर पर काफी फार्म अभी पेंडिंग है इनके दस्तावेजों को ठीक किया जा रहा है इसके बावजूद जिले में 87000 से अधिक किसान पंजीकृत हो चुके हैं और इनमें से 83000 को योजना के तहत लाभ भी मिल चुका है।

आवेदन करने के लिए यह चाहिए दस्तावेज

डॉक्यूमेंट के रूप में किसान का आधार कार्ड नंबर, खाता नंबर, मोबाइल नंबर या फोन नंबर का होना जरूरी है। (आधार, मोबाइल नंबर या बैंक खाता) की वजह से रुका है तो वह कागजात ऑनलाइन अपलोड भी कर सकते हैं। अगर आप किसान हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आप इस बेवसाइट की मदद लेकर अपना नाम खुद जोड़ सकते हैं।
‘फार्मर कार्नर’ टैब से जान सकतेेे हैं अपनी स्थिति

किसानों को इसके लिए बेवसाइट को लॉग इन करना होगा। इसमें दिए गए ‘’फार्मर कार्नर’’ वाले टैब में क्लिक करना होगा। इस टैब में किसानों को खुद को पीएम किसान योजना में पंजीकृत करने का विकल्प दिया गया है। अगर आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार ठीक से अपलोड नहीं हुआ है या किसी वजह से आधार नंबर गलत दर्ज हो गया है तो भी इसकी जानकारी भी इसमें मिल जाएगी।

आवेदन करने के लिए यह चाहिए दस्तावेज

डॉक्यूमेंट के रूप में किसान का आधार कार्ड नंबर, खाता नंबर, मोबाइल नंबर या फोन नंबर का होना जरूरी है। (आधार, मोबाइल नंबर या बैंक खाता) की वजह से रुका है तो वह कागजात ऑनलाइन अपलोड भी कर सकते हैं। अगर आप किसान हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आप इस बेवसाइट की मदद लेकर अपना नाम खुद जोड़ सकते हैं।