किराया नहीं देनेे पर विवाद में मकान मालिक ने की महिला से मारपीट, केस

अम्बाला. लॉकडाउन में फास्ट-फूड का कामकाज बंद हो गया। इसी वजह से मकान मालिक का किराया नहीं दे पाया। लॉकडाउन खुलने पर किराया देने की बात कहीं तो किराएदार को तंग करना शुरू कर दिया। किराएदार का आरोप है कि उसके जूते जला दिए गए। कपड़े धोने की मशीन का कनेक्शन काट दिया गया। जब जूते जलाने की बात मकान मालिक को बोली तो उसके साथ मारपीट की गई। जब किराएदार सोनू की पत्नी प्रियंका बीचबचाव करने आई तो उसके साथ बुरी तरह से मारा गया। घायल हालत में पत्नी को इलाज के लिए कैंट के सिविल अस्पताल में पति सोनू ने भर्ती कराया गया। जहां पर डाॅक्टर मेडिकल रिपोर्ट में छह चोटें बताई है। महेश नगर थाना पुलिस ने किराएदार की शिकायत पर हरि नगर निवासी मकान मालिक आनंद कुमार और बेटे सोनू कुमार के खिलाफ मारपीट और जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर लिया है।
किराएदार सोनू सोनीपत का रहने वाला है। जनवरी में बीड़ी फ्लोर मिल के पीछे हरि नगर में कमरा लिया और फास्ट फूड का काम भी शुरू किया। जनवरी में पूरा किराया दिया, फरवरी में 500 रुपए और मार्च में बेटे की तबीयत खराब हो गई। इसलिए किराया रुक गया। अप्रैल में लॉकडाउन लग गया। मकान मालिक को बात बताई तो उन्होंने बात मान ली। परिवार चलाने के लिए उसने सब्जी बेचने का पास बनवाया। सब्जी मंडी खरीदने के लिए जा रहा था तो नमस्ते चौक पर उसके साथ लूटपाट हो गई। इसलिए सब्जी का काम भी नहीं हो पाया। मकान मालिक ने किराया मांगा तो 10 मई को 2500 रुपए दिए। फिर भी तंग किया जाने लगा। मारपीट की गई और हमें घर से बाहर निकाल दिया गया। मेडिकल कराने के बाद रामकिशन कॉलोनी जा रहे थे तो रास्ते में रोक कर फिर मारपीट की और पत्नी के कपड़े फाड़ दिए।