रात काे ठेके का शटर उठा शराब बेच रहे करिंदे, पुलिसकर्मी भी खरीद रहे

  • बुबका चौक के पास स्थित शराब के ठेके पर टूट रहे लाॅकडाउन के नियम, सुबह 8 से शाम 7 बजे तक ही खाेल सकते हैं ठेका

यमुनानगर. लॉकडाउन के दौरान अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के उद्देश्य से सरकार ने 6 मई को शराब के बंद पड़े ठेकाें काे खोल दिया है। वहीं शराब के ठेके खुलने के बाद से ही ठेकेदाराें पर नियमों को तोड़ने के आरोप लग रहे हैं। ठेका खुलने का समय सुबह 8 से शाम 7 बजे का है। निर्धारित समय के बाद भी रादौर के बुबका चौक के पास स्थित एक शराब के ठेके पर रात के समय शटर के नीचे से शराब बेची जा रहा है। बुधवार काे ठेका बंद होने के करीब एक घंटा बाद आठ बजे एक पुलिस कर्मचारी ऑल्टो गाड़ी में बुबका चौक स्थित शराब के ठेके पर पहुंचा। पुलिस कर्मचारी वर्दी में था। शराब के ठेके के सामने केवल कमीज चेंज कर रेड कलर की टीशर्ट पहनी और ठेके के पास पहुंच शटर खटखटाया अाैर ठेके के कारिंदे को आवाज लगा अंग्रेजी शराब की बोतल मांगी। जिसके बाद करिंदे ने शटर को उठाया और पैसे मांगे। करिंदे ने कहा कि यह बोतल 600 रुपए की है। जिस पर पुलिस कर्मचारी ने कहा कि 500 ले लो। करिंदे ने कहा इतने में काम नहीं चलेगा। इस पर पुलिस कर्मचारी ने कहा कि चल 550 ले लाे और 600 रुपए करिंदे को पकड़ा कर 50 रुपए वापस देने काे कहा। इसके बाद पैसे व शराब की बाेतल लेकर पुलिसकर्मी अपनी गाड़ी में बैठकर चला गया। इस बारे में क्षेत्र की संस्थाओं से जुड़े लोगों का कहना है कि लॉकडाउन के उल्लंघन पर प्रशासन दुकानाें पर सख्त कार्रवाई कर रहा है। वहीं शराब के ठेकों पर रात के समय अवैध रूप से शराब बिक रही है।

अभी डीएसपी से बात करती हूं, सख्त कार्रवाई होगी: एसडीएम
मामला मेरे संज्ञान में नहीं है। नियम व कानून सभी के लिए बराबर हैं। ठेका खोलने की रियायत देने का मतलब ये नहीं कि शराब ठेकेदार नियम ताेड़ेंगे। मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी। मैं इस संबंध में अभी डीएसपी से बात करतीं हूं।
पूजा चावरियां, एसडीएम, रादौर।
मैं आज ही कार्रवाई करूंगा
मामला अभी मेले संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा है तो मैं आज ही चेक करवा कर कार्रवाई करूंगा।
कुशलपाल राणा, डीएसपी, रादौर।