जिले के 54 फीसदी विद्यार्थी टेलिविजन चैनलों पर लगा रहे कक्षाएं

  • जिले के सभी 628 स्कूलों को रोजाना करनी होती रिपोर्ट, रेंडम आधार पर हर कक्षा के 20 बच्चों से रोजाना ले रहे फिडबैक

फतेहाबाद. कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते किए गए लाॅकडाउन के कारण जिले के सभी स्कूल बंद हैं। इस दौरान बच्चों की पढ़ाई प्रभावित ना हो इसके लिए शिक्षा विभाग ने वाट्सअप व टीवी चैनलों के माध्यम से बच्चों की पढ़ाई शुरू करवाई हुई है।
जिले के कुल बच्चों में से केवल 54 फीसदी बच्चे ही रोजाना टीवी के माध्यम से कक्षाएं लगा रहे हैं। बाकी के बच्चे किसी ना किसी कारण के चलते टीवी पर कक्षाएं नहीं लगा पा रहे हैं।
टीवी चैनलों के माध्यम से कक्षाएं लगाने वाले बच्चों की संख्या बढ़ाने के लिए विभाग रोजाना सभी स्कूलों से सभी कक्षाओं की रिपोर्ट ले रहा है। बच्चों व अभिभावकों को जागरूक करने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी स्कूल मुखियाओं को गांव में मुनादी करवाने के भी निर्देश दिए हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा बच्चे टीवी पर अपनी कक्षाएं लगाएं जिससे की उनकी पढ़ाई खराब ना हो।

ई-लर्निंग फिडबैक में हाई व सीनियर सेकंडरी स्कूल काफी पीछे हैं। इसका कारण यह है कि जिले के 102 सीनियर सेकंडरी स्कूलों में से केवल 30 में ही परमानेंट प्रिंसिपल हैं। इनमें से ही 6 को बीईओ का चार्ज दिया हुआ है। अन्य स्कूलों में सीनियर लैक्चरर को प्रिंसिपल की पॉवर दी हुई जो इन दिनों कोविड-19 व गेहूं खरीद में ड्यूटी दे रहे हैं। 50 हाई स्कूलों में से केवल 8 में ही हैडमास्टर हैं। अन्यों में सीनियर को चार्ज दिया हुआ है तथा इनकी भी ड्यूटी गेहूं खरीद में लगी हुई है। बच्चों की पढ़ाई की सही मॉनिटरिंग नहीं होने के चलते ऑनलाइन कक्षाएं लगाने वाले बच्चों की संख्या भी कम है।

किसी कक्षा के कितने विद्यार्थी टीवी पर लगा रहे कक्षाएं
कक्षा कुल विद्यार्थी टीवी पर कक्षाएं लगा रहे
1 से 5 41015 22535
6से 8 27797 15200
9वीं व 10वीं 18472 10355
11वीं व12वीं 9154 4979
ई-लर्निंग प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए तथा ज्यादा से ज्यादा बच्चे इससे जुड़ें इसके लिए विभाग ने ई-लर्निंग फिडबैक शुरू किया हुआ है। इसके तहत सभी डीईओ, बीईओ, एबीआरसी तथा स्कूल हैड को रेंडमली प्रतिदिन 20-20 बच्चों को फोन कर उनसे ई-लर्निंग का फिडबैक लेना होता है। इसके बाद इसकी रिपोर्ट रोजाना मुख्यालय भेजी जाती है। जिले के अधिकतर स्कूल मुखिया ई-लर्निंग फिडबैक फार्म नहीं भर रहे हैं। जिले के 628 स्कूलों में से केवल मात्र 85 स्कूलों के हैड ने ही फिडबैक दिया है।
54 फीसदी बच्चे लगा रहे कक्षाएं
जिले के 54 फीसदी बच्चे रोजाना टीवी पर कक्षाएं लगा रहे हैं। हम प्रयास कर रहे हैं कि बच्चों की संख्या बढ़ाई जाए इसके लिए मुनादी करवा रहे हैं। सभी स्कूल हैड को रोजाना फिडबैक देने के निर्देश दिए गए हैं।'' – दयानंद सिहाग, जिला शिक्षा अधिकारी, फतेहाबाद।