छात्रा से परिजनों को नींद की दवा खिला उससे एक साल तक रेप करता रहा पड़ोसी

  • आरोपी समेत उसके तीन अन्य साथियों पर केस दर्ज किया

यमुनानगर. आईटीआई की छात्रा के साथ एक साल से गांव का ही युवक रेप कर रहा था। वह उसे नशे की टेबलेट परिवार को दूध में देने के लिए देता था ताकि परिवार के लोग रातभर गहरी नींद में सोए रहें। एक साल से इसी तरह से चल रहा था। जैसे ही टेबलेट खाने से परिवार के लोग गहरी नींद में सो जाते थे तो युवती के घर युवक आ जाता था। इसके बाद उसके साथ रेप करता था। करीब एक साल से ऐसा चल रहा था। युवती भी डर के मारे परिवार को कुछ बता नहीं पा रही थी लेकिन इस बार टेबलेट ज्यादा एमजी की होने से असर ज्यादा हो गया।
सुबह जब युवती का पिता और भतीजा नींद से नहीं उठे तो उन्हें अस्पताल ले जाया गया। तब इस बात का खुलासा हुआ। इस पर युवती ने पूरी बात घर वालों को बताई। इसके बाद शिकायत ई-मेल से एसपी और खिजराबाद थाना एसएचओ को भेजी गई। पुलिस ने रेप के आरोप में गांव के ही मनीष और उसका साथ देने के आरोप में रामपाल, रिषीपाल, प्रदीप, मांगेराम पर केस दर्ज किया है।
आईटीआई जाते समय पीछा करता था, मोबाइल दी थी और बात न करने पर धमकी देता था| खिजराबाद थाना एरिया के एक गांव निवासी युवती ने पुलिस को शिकायत दी है कि वह आईटीआई में पढ़ती है। जब वह घर से आईटीआई के लिए आती थी तो गांव का मनीष उसका पीछा करता था। उसकी गांव में ही इलेक्ट्रीशियन की दुकान है। वह जुलाई 2019 से उसे फोन कर धमकाने लगा था। उसने धमकी दी थी कि अगर उसने उससे बात नहीं की तो वह उसके भाई और पिता को मार देगा। डर के मारे वह उससे बात करती रही। वह उस पर दबाव बनाने लगा कि वह उससे मिलना चाहता है। एक दिन वह उसे मिला और उसने उसे कुछ टेबलेट देकर कहा कि ये टेबलेट परिवार के लोगों को रात को देनी है। इससे वे नींद से नहीं उठ पाएंगे। उसने दूध में परिवार को वे टेबलेट दी थीं। रात को मनीष उसे अपनी दुकान में ले गया। वहां उसके साथ रेप किया। उसने उसकी अश्लील फोटो और वीडियाे भी बनाई। इन फोटो और वीडियो के नाम पर वह उसे ब्लैकमेल कर रेप करता रहा। एक दिन वह बस से आईटीआई जा रही थी। तभी मनीष ने फोन कर कहा कि वह छछरौली बस स्टैंड पर उसे मिलना। उसने मना किया तो वह धमकी देने लगा। डर के मारे वह बस से उतर गई। इसके बाद वह वहां आया और उसे एसईए होटल छछरौली ले गया। वहां कुछ कागज पर उसके साइन कराए और उसे पीने के लिए कोल्ड ड्रिंक दे दी। जैसे ही उसने वह पी तो उसे नशा हो गया। इसके बाद मनीष ने उसके साथ रेप किया।

डर से किसी को नहीं बताया

वह मनीष से परेशान होकर रिश्तेदारी में चली गई। उसने अपना मोबाइल भी तोड़ दिया था। इसके बाद उसने उसकी रिश्तेदारी में किसी के हाथ मोबाइल भेज दिया और कहा कि अगर बात नहीं की तो उसे बदनाम कर देगा। डर के मारे वह बात करती रही। छह मार्च को वह अपने घर आ गई थी। मनीष का मोबाइल उसके परिवार ने देखा तो उसे ले लिया। इसके बाद गांव के राजा की पत्नी दलजीत के हाथ एक और मोबाइल मनीष ने उसे देने के लिए भेजा। उसने फोन कर उसे 10 मई को कहा कि वह रात को उसे लेने आएगा। उसने टेबलेट भेजी कि ये अपने परिवार को रात को देनी हैं। उसने रात को ये टेबलेट दूध में परिवार को दीं। इसके बाद मनीष रात को उनके घर आया और उसके साथ रेप किया। उसे जबरदस्ती बाहर ले गया। बाहर तीन लोग और खड़े थे। उन्होंने उसे जबरदस्ती कार में बैठा लिया। इस दौरान उसके भाई ने देखा तो वे उसे कार से उतारकर फरार हो गए। नींद की टेबलेट ज्यादा मात्रा में देने से उसके पिता और तीन साल के भतीजे की तबीयत खराब हो गई। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।