ई खरीद पोर्टल पर ऑप्शन अधूरी डलने से किसानों को नहीं मिला भुगतान, अब 18 से आंदोलन : भाकियू

यमुनानगर. ई खरीद पोर्टल पर सरकार की ओर से अधूरी ऑप्शन डाली गई। जिससे किसानों को अभी तक भुगतान नहीं हुआ। जिन आढ़तियों के खाते में पैसा आया भी उन्होंने खाते में डाला भी है। आधे से ज्यादा किसानों को अभी तक पैसा नहीं मिला है। ये पता भी नहीं है कब मिलेगा। जल्द भुगतान की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन 18 मई से प्रदेश स्तरीय आंदोलन करेगी। भुगतान को लेकर कच्चा आढ़ती एसोसिएशन की बैठक हुई।
एसोसिएशन के प्रधान संदीप कुमार ने बताया कि सरकार ने किसानों को भुगतान के लिए नया सिस्टम बनाया है। इसके अनुसार आढ़तियों ने किसानों को ई खरीद पोर्टल के द्वारा भुगतान करना है। वह पहले कोऑपरेटिव मार्केटिंग सोसाइटी चंडीगढ़ के प्राइवेट बैंक में जा रहा है। फिर वहां से किसानों के खाते में कब आएगा किसी को नहीं पता है।
इससे सभी आढ़ती परेशान हैं। भुगतान न मिलने से किसान बहुत परेशान हैं। आढ़ती भी डरे हुए हैं कि कहीं भुगतान बीच में अटक न जाए। कहीं और न पैसा डल जाए। गेहूं के भुगतान की प्रक्रिया पहले भी सरकार कई बैठक ले चुकी है। 15 अप्रैल तक भुगतान के आदेश थे। आढ़ती 72 घंटे के अंदर आरटीजीएस के द्वारा किसान को भुगतान करेगा। जब आढ़ती आरटीजीएस करने को तैयार हैं तो फिर प्राइवेट बैंक बीच में क्यों रखा गया है। किसी न किसी की मिलीभगत से ब्याज का लालच नजर आ रहा है। वहीं गेहूं की चमक कम होना भी प्राकृतिक आपदा है। इसके लिए किसान या आढ़ती का कोई कसूर नहीं है। सरकार को चाहिए इसके वहन का पत्र जल्द जारी करे। किसानों को भुगतान न मिलने पर भाकियू ने सरकार काे चेतावनी दी है। 17 मई तक सरकार ने भुगतान नहीं किया तो यूनियन 18 से आंदोलन के लिए बाध्य होगी।