हेल्पलाइन की मदद से जिज्ञासाओं को दूर कर सकेंगे विद्यार्थी

  • शिक्षा सेतु से शिक्षा व अन्य ऑनलाइन एप से विद्यार्थी काउंसलर्स से जान सकते हैं अपने सवालों के जवाब

फतेहाबाद. कोरोना वायरस के चलते कॉलेज बंद होने से हजारों विद्यार्थियों की कोई भी परीक्षाएं नहीं हो पाई है। लॉकडाउन के दौरान कॉलेज के विद्यार्थी घर में परीक्षाओं को लेकर तनाव और अनिश्चितता महसूस कर रहे हैं। विद्यार्थियों के तनाव व समस्याओं को दूर करने के लिए उच्चत्तर शिक्षा विभाग की ओर से काउंसलिंग सिस्टम शुरू किया है। जिससे विद्यार्थी टोल फ्री नंबर पर कॉल करके अपनी जिज्ञासा दूर कर सके हैं। शिक्षा सेतु एप के अलावा विभिन्न तरह वेबसाइट पर भी जाकर काउंसलिंग ले सकते हैं। जिससे समस्याओं का निदान हो सकता है।
प्रदेश सरकार व उच्चतर शिक्षा विभाग की ओर से टेली काउंसिलिंग के लिए हेल्पलाइन नंबर 18003132023 जारी किया हैं। विभाग की ओर से 180 कॉलेजों के मनोवैज्ञानिको द्वारा बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों, तनाव, चिंता, असंतोष व कैरियर के लिए काउंसिलिंग की जा रही है।

यूआर दोस्त वेबसाइट व टच बेस लाइव से विद्यार्थियों के लिए टेली व वीडियो काउंसिलिंग की सुविधाएं शुरू की हुई है। जहां विद्यार्थी दोनों वेबसाइट पर जाकर मनोवैज्ञानिक सलाहकार के साथ जुड़कर अपनी समस्याओं को बताकर उनका हल जान सकते हैं।

यूआर दोस्त एप पर विद्यार्थियों को आदर्श विद्यार्थी बनने के परामर्श दिए गए है। इसके लिए विद्यार्थी रात को रोजाना 7 से 8 घंटे की नींद ले। विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के लिए शेड्यूल बनाएं। घर में रहकर योग व एक्सरसाइज करे। हेल्दी खाना खाए। सामाजिक रुप से जुड़े रहे, कुछ देर के लिए ध्यान में बैठे। जिससे मन शांत होगा। यदि कोई समस्या है तो वे काउंसलर से बात करे। अपने कैरियर संबंधित काउंसलर से भी विद्यार्थी बातचीत कर सकते है।

पहले अपना गोल करें निर्धारित

काउंसिलिंग में विद्यार्थी परीक्षाओं को लेकर ज्यादातर सवाल पूछ रहे हैं परीक्षाएं कब होगी, आगे हम कौन सी फील्ड में एडमिशन ले पाएंगे। विद्यार्थी परीक्षाओं को लेकर चिंता न करें। घर में रहकर अपनी प्रतिभा को पहचाने व ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करते हुए सिलेबस को पूरा कर उसका रिविजन करें। कैरियर संबंधित के लिए विद्यार्थी अपने गोल निर्धारित करें। वे घर में रहकर अपने आपके को सुरक्षित रखने के लिए आरोग्य शिक्षा सेतु एप का प्रयोग करें।

मोटिवेशनल एक्टिविटी भी जरूरी

एमएम कॉलेज प्रिंसिपल गुरचरण दास ने बताया कि लॉकडाउन के बीच विद्यार्थियों को ऑनलाइन शिक्षा के साथ साथ मोटिवेशनल एक्टिविटी के लिए कई तरह की सुविधा दी है। जिससे घर बैठे ही जानकारी ले सकते हैं। इसमें शिक्षा सेतु सबसे अहम है। वहीं टेली काउंसलिंग नंबर का भी प्रयोग कर सकते हैं।