दूसरे राज्यों के 41 तब्लीगी जमातियों को स्पेशल बसों से किया गया रवाना, अब तक क्वारैंटाइन में रहे

  • तमिलनाडु के 17, बिहार के 5, महाराष्ट्र,कर्नाटक के चार-चार और पश्चिमी बंगाल के 11 जमाती थे
    मेवात के मॉडल स्कूल में किया गया था क्वारैंटाइन, पलवल में पकड़े गए थे सभी

पलवल. कोरोना वायरस के फैलाव के दौरान पलवल में धर्म प्रचार करते हुए मिले तब्लीगी जमात के लोगों को अब उनके घरों को भेजना शुरू कर दिया गया है। मंगलवार देर रात को 41 तब्लीगी जमातियों को बसों में बैठाकर उनके राज्यों के लिए रवाना कर दिया गया। इनमें तमिलनाडु के 17, बिहार के 5, महाराष्ट्र, कर्नाटक के चार-चार और पश्चिमी बंगाल के 11 जमाती थे।

स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य हिदायतों का पालन करने के लिए कहा है। ये सभी जमाती मेवात के मॉडल स्कूल में क्वारैंटाइन किए हुए थे। एसडीएम वकील अहमद ने बुधवार को बताया कि धर्म प्रचार के लिए आए 41 तब्लीगी जमातियों के दूसरे ग्रुप को बीती रात्रि को स्पेशल बसों में बैठाकर रवाना किया।

इससे पहले भी 35 जमातियों को उनके राज्यों में भेजा गया था। उक्त सभी हथीन उपमंडल के विभिन्न ग्रामों में आए थे, पिछले एक महीने के अधिक टाइम से क्वारैंटाइन में थे। मेवात मॉडल स्कूल में रह रहे थे। अब मेवात मॉडल स्कूल के क्वारैंटाइन सेंटर में मात्र 9 बांग्लादेश और एक-एक असम और बिहार के जमाती रह गए हैं।