हिसार में रेलवे ट्रैक क्रॉस कर रहे तीन बच्चों को रेल इंजन ने कुचला, मरने वालों में दो सगे भाई

  • हिसार के सत्य नगर की घटना, माता-पिता दिहाड़ी करने गए थे
  • प्रत्यक्षदर्शियों का कहना रेल इंजन पायलट ने हॉर्न नहीं बजाया

हिसार. हिसार में मंगलवार को एक रेल इंजन ने रेलवे ट्रैक क्रॉस कर रहे तीन बच्चों को कुचल दिया। तीनों की मौके पर मौत हो गई। मरने वालों में दो सगे भाई हैं। मृतकों के माता-पिता दिहाड़ी पर गए थे, उन्हें नहीं पता था कि बच्चे कहां हैं। वहीं प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि बच्चों को देखकर भी रेल इंजन के पॉयलट ने हॉर्न नहीं बजाया। हालांकि इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं है। जीआरपी ने मृतकों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है। मामले में कार्रवाई की जा रही है।

मामले में कार्रवाई करते हुए जीआरपी कर्मचारी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक हादसा शाम के समय का है। हिसार के सत्य नगर में रहने वाले रवि (12) पुत्र सुनील, अजीत (8) पुत्र मनोज व गोलू (5) पुत्र मनोज सत्यनगर के पास स्थित रेलवे ट्रैक क्रॉस कर रहे थे। इसी दौरान सिरसा की तरफ से एक रेल इंजन आ रहा था। जब तक रेल इंजन को देखकर बच्चे संभल पाते, वह तीनों बच्चों को कुचलकर आगे बढ़ चुका था।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि रेल इंजन पॉयलट ने हॉर्न नहीं बजाया। अजीत और गोलू दोनों सगे भाई थे। घटना के बाद जीआरपी मौके पर पहुंची। हिसार जीआरपी इंचार्ज प्रदीप यादव का कहना है कि उन्होंने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल में रखवा दिया है। रेलवे से जुड़ी आवश्यक जानकारी जुटाई जा रही है। मामले में कार्रवाई जारी है।