सैक्टर 6, वत्स कालोनी व शक्ति नगर सहित बुपनिया व शाहपुर कॉनटेंमेंट एरिया घोषित

बहादुरगढ़, 11 मई
कोविड-19 वैश्विक महामारी के विरूद्ध झज्जर जिला पूरी सजगता के साथ कदम बढ़ा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की रेंडम सैंपलिंग के दौरान हाल ही में बहादुरगढ़ शहरी क्षेत्र में 8 व बादली उपमंडल के गांव बुपनिया में एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति की पुष्टि हुई, ऐसे में जिलाधीश की ओर से प्रभावित लोगों के रिहायशी क्षेत्र को कॉनटेंमेंट एरिया घोषित किया गया है।
कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की स्वास्थ्य विभाग की पुष्टि होने उपरांत बहादुरगढ़ शहरी क्षेत्र के सैक्टर 6, वत्स कलोनी लाइनपार व शक्ति नगर बहादुरगढ़ सहित बादली उपमंडल के गांव बुपनिया व साथ लगते गांव शाहपुर को कॉनटेंमेंट एरिया घोषित किया है। गौरतलब है कि झज्जर जिला में अभी तक कोरोना पोजिटिव के 83 मामले सामने आए है जिनमें से करीब दर्जन भर प्रभावित व्यक्तियों में स्वास्थ्य सुधार होने उपरांत पीजीआई रोहतक से छुट्टी भी मिल चुकी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से निरंतर रैंडम सैंपलिंग प्रक्रिया जारी है जिसके आधार पर उक्त नए मामले सामने आए हैं।
जिलाधीश श्री जितेंद्र कुमार ने कॉनटेंमेंट एरिया के लिए आदेश जारी करते हुए एसडीएम बहादुरगढ़ श्री तरूण कुमार पावरिया को शहरी क्षेत्र बहादुरगढ़ व बादली उपमंडल के गांव बुपनिया व शाहपुर के लिए एसडीएम बादली श्री विशाल कुमार की देखरेख में उक्त एरिया की नियमित रिपोर्ट अपडेट ली जाएगी। कॉनटेंमेंट एरिया के तहत सैक्टर 6, वत्स कलोनी लाइनपार व शक्ति नगर बहादुरगढ़ सहित बादली उपमंडल के गांव बुपनिया व शाहपुर को पूरी तरह से सील किया जा रहा है। साथ ही उक्त क्षेत्र वासियों के घर से बाहर निकलने सहित अन्य स्थानों पर आवागमन पर भी पूर्णतया प्रतिबंद्ध रहेगा। उक्त क्षेत्र में अधिकृत वाहनों को छोड़कर किसी भी वाहन का संचालन नहीं होगा। उन्होंने बताया कि उक्त एरिया में सभी निवासियों के स्वास्थ्य की जांच नियमित तौर पर होगी और सभी स्वास्थ्य विभाग की ओर से नियुक्त की गई टीमें प्रभावित एरिया में घर- घर जाकर थर्मल स्केनिंग का कार्य करेंगी। इसके साथ- साथ कोरोना वायरस से बचाव के लिए आवश्यक तरीकों की भी जानकारी देंगी।
कॉनटेंमेंट एरिया में लोगों के आने-जाने पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा। इस व्यवस्था को कायम रखने के लिए पर्याप्त पुलिस नाका स्थापित करवाए जा रहे हैं। नियमों की अवहेलना न हो इसके लिए सुरक्षा के लिहाज से पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती भी की जा रही है। इस क्षेत्र के निवासियों के लिए आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति व्यवस्थित ढंग से ही होगी। लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है, उनके स्वास्थ्य सेवा की दिशा में ही प्रशासन की ओर से यह कदम उठाए गए हैं।
सिविल सर्जन डा.रणदीप पूनिया ने बताया कि नियमों के अनुरूप पचास घरों पर एक टीम का गठन किया गया है। प्रवेश द्वार पर 24 घंटे स्वास्थ्य विभाग की मुख्य टीम उपस्थित रहेंगी और आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई करने के लिए जाने वाले लोगों की पूरी स्क्रीनिंग की जाएगी। स्वास्थ्य जांच सहित अन्य आवश्यक कार्य हेतु जाने वाले व्यक्ति अथवा कर्मी सेनिटाईज होकर फेस मास्क, टोपी, दस्ताने इत्यादि पहनकर ही कार्य करेगा।