दिन के 10:30 बजे जैसे आधी रात; फिर आंधी के बाद बारिश से मिली राहत

  • सामान्य से 80 तक कम हुआ पारा

पानीपत. पश्चिमी विक्षोभ से उत्तरी भारत का मौसम एकाएक बदल गया। हरियाणा में रविवार को तेज आंधी-तूफान के चलते दिन में अंधेरा छा गया। आसमान काली घटाओं से घिर गया और बारिश भी हुई। सुबह के करीब 10:30 बजे थे, पर करनाल में नाजारा आधी रात जैसा था। चारों तरफ काले बादल छाए हुए थे। वैशाख के महीने में सावन जैसा नजारा। पंचकूला, अम्बाला, कुरुक्षेत्र, यमुनानगर, कैथल, जींद, करनाल, पानीपत सहित सिरसा, फतेहाबाद, भिवानी, हिसार, चरखी-दादरी व झज्जर में बारिश हुई। इस दौरान उत्तर पूर्वी हरियाणा के कई इलाकों में कई इलाकों में 40 से 50 किमी की गति से हवा चली।

14 व 19 को फिर बारिश संभव, 20 तक लू चलने के आसार नहीं

  • दिन का तापमान अधिकांश जिलों में 31 से 37 डिग्री के बीच आ गया। सामान्य से आठ डिग्री तक कम हो गया। मई के 10 दिनों में प्रदेश में 12.2 एमएम बरसात हो चुकी है, जो सामान्य से 183 फीसदी अधिक है।
  • आईएमडी चंडीगढ़ के निदेशक डॉ. सुरेंद्र पाल के अनुसार मई का दूसरा सप्ताह चल रहा है और लू नहीं चली। 14 व 19 मई को फिर से पश्चिमी विक्षोभ आ रहे हैं, ऐसे में 20 मई तक लू चलने के आसार नहीं हैं।

उधर, कैथल में आसमानी बिजली गिरने से युवक की मौत
बीरबांगड़ा में आसमानी बिजली गिरने से 18 वर्षीय अमन पुत्र रघुबीर की मौत हो गई। वह दो बहनों का इकलौता भाई था। अमन तूड़ी का कूप बांधने के लिए अपने अन्य दोस्तों के साथ खेत में गया था। रविवार की सुबह 11 बजे अचानक तेज अंधड़ व बरसात के साथ बिजली कड़कड़ाने लगी। तभी वह आसमानी बिजली की चपेट में आ गया।