लड़की देखने पानीपत गए, महासाध्वी ने कहा- पता नहीं लॉकडाउन कब तक चलेगा आज ही शादी कर लो, मंगल पाठ सुना कर अपना आशीर्वाद दे शादी करवाई

  • जैन स्थानक में बगैर दहेज के 10 लोगों की मौजूदगी में बिना पंडित के 4 घंटे में हुआ विवाह
  • ज्याेति कुसुम प्रभा महाराज ने कहा-अाज जिस शुभ घड़ी में अाप लाेग मिले हैं, उसे ही यादगार बना दाे
  • गरिमा कई साल से गांधी मंडी स्थित जैन स्थानक में ही सेवा कर रह हैं
  • दूल्हे बने नितिन बंसल कुरुक्षेत्र के रहने वाले हैं और वे करियाना की दुकान चलाते हैं

पानीपत. पानीपत की गरिमा उर्फ वंदना जैन काे कुरुक्षेत्र से नितिन बंसल देखने के लिए अाए थे। जैसे ही वंदना उन्हें पसंद आई ताे उप प्रवर्ती महासाध्वी जैन ज्याेति कुसुम प्रभा महाराज ने कहा कि पता नहीं लाॅकडाउन कब तक चले। आज जिस शुभ घड़ी में आप लाेग मिले हैं, उसे ही यादगार बना दाे। यह अवसर दाेबारा नहीं आएगा। इसी माैके में शादी बंधन में बंध जाओ। महा साध्वी के इस निर्देश काे मान दोनों की गुरुवार को 4 घंटे में शादी कर दी।
गांधी मंडी स्थित जैन स्थानक में उप प्रवर्तनी कैलाश देवी महाराज की शिष्या महासाध्वी कुसुम प्रभा महाराज ने मंगल पाठ कर पानीपत की वंदना जैन की कुरुक्षेत्र के नितिन बंसल काे शादी बंधन में बांधा। वर व वधू की अाेर से उनके माता-पिता ने ही आशीर्वाद देकर सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। इस दाैरान किसी भी प्रकार का कोई भी आयोजन नहीं हुअा। लॉकडाउन के चलते 10 लाेगाें की मौजूदगी में महासाध्वी ने नवदंपती को मंगल पाठ सुना कर अपना मंगल आशीर्वाद प्रदान किया। इस अवसर पर समाज सेवी जगदीश चंद्र जैन, डॉ. ईश्वर जैन व सुरेश जैन माैजूद रहे।
बड़ी और छोटी बेटी दोनों ही कई साल से जैन स्थानक में सेवा कर रहीं
महासाध्वी कैलाश वती महाराज की शिष्या है। पिता सुबुद्धि जैन ने बताया कि कई साल से गांधी मंडी स्थित जैन स्थानक में ही सेवा कर रह हैं। उनकी बड़ी बेटी 19 वर्षीय गरिमा जैन भी उप प्रवर्ती महा साध्वी जैन ज्याेति कुसुम प्रभा महाराज की 10 साल से ज्यादा समय से सेवा कर रही है। छाेटी बेटी हनु जैन भी गांधी स्थानक में ही सेवा कर रही है। बेटा सबसे छाेटा है। गरिमा के रिश्ते की बात कुरुक्षेत्र निवासी नितिन बंसल के साथ चली थी। बेटी गरिमा उर्फ वंदना काे देखते ही अाए थे। गरिमा ने हरियाणा अाेपन से 10वीं पास की है। नितिन के परिवार ने कुछ भी दान दहेज लेने से मना कर दिया।