लेफ्ट लाइन को बदलकर दोपहर बाद राइट किया, अधिकारी बोले-प्लान में गड़बड़ नहीं, तालमेल के साथ करवाएंगे लागू

  • पहले दिन कुछ दिक्कतों के साथ दिखाई दिया सुधार, वहीं जहां जरूरत है वहां सुधार करवाएंगे अफसर

डबवाली. शहर में जिला प्रशासन की ओर से लेफ्ट राइट लाइन अनुसार तीन-तीन दिन दुकान खोलने का नया सिस्टम लागू करने में नगर परिषद और पुलिस प्रशासन को मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। दुकानदार भी पहले दिन असमंजस में रहे। नगर परिषद टीम ने दोपहर बाद कई इलाकों में लेफ्ट लेन को राइट में बदल दिया। जिससे दुकानदारों ने विरोध करते हुए नाराजगी जाहिर कर प्रशासन पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया। शुक्रवार से लागू हुए लेफ्ट राइट साइड दुकान खुलने के नए सिस्टम को बनाने के लिए नगर परिषद टीम ने प्लान तैयार कर दोपहर में मेन रोड और मुख्य बाजारों की लोकेशन पर लेफ्ट और राइट साइड का बाजार तय करते हुए पोस्टर लगाए। साथ ही उनके खुलने का दिन भी प्रिंट किया गया और सभी बाजार के दुकानदारों से रविवार को इमरजेंसी आवश्यकता वाली दुकानों को छोड़कर सभी बाजार में दुकानें बंद रखने की अपील की। इससे पहले असमंजस के चलते दोनों ओर के ज्यादातर दुकानदारों ने अपनी दुकानें खोल ली। दुकानदारों ने बताया कि उन्हें लेफ्ट और राइट की जानकारी नहीं दी जा रही है जिसके चलते ऐसा हो रहा है। नगर परिषद टीम की ओर से मेन बाजार सहित अधिकतर एरिया में लेफ्ट लाइन को बदलकर दोपहर बाद राइट लाइन कर दिया गया। जिससे विवाद की स्थिति पैदा हो गई और दुकानदारों ने नगर परिषद टीम के सामने नाराजगी जाहिर की और प्रशासनिक अधिकारियों पर लापरवाही बरत कर जानबूझकर दुकानदारों को परेशान करने का आरोप लगाया।

कई जगह एक ही लाइन में लेफ्ट और राइट दोनों के पोस्टर लगे

नगर परिषद कर्मचारियों की ओर से लेफ्ट और राइट लेन को दोपहर बाद कई बाजारों में बदले जाने से एक ही साइड की दुकान पर लेफ्ट और राइट दोनों के पोस्टर लगे हुए हैं। इससे दुकानदारों के साथ-साथ नगर परिषद कर्मचारी भी सही साइड तय नहीं कर पा रहे हैं। दुकानदारों ने कहा कि लंबे समय से लॉक डाउन के चलते सभी का कारोबार ठप है वहीं अब व्यवस्था नहीं बनाए जाने के चलते अतिरिक्त परेशानी झेलनी पड़ रही है। जिससे प्रशासनिक अधिकारियों से व्यापारियों और आम जन के साथ बेहतर संबंध बनाते हुए व्यवस्थाएं सुचारू करने की मांग की ताकि सोशल डिस्टेंस मेंटेन कर सभी दुकानदार अपना कारोबार चलाने के साथ ग्राहकों की डिमांड भी पूरी कर सकें।
जिला प्रशासन को शिकायत भेज कराया अवगत
मेन बाजार के दुकानदार राजेंद्र गर्ग ने बताया कि नगर परिषद टीम ने उन्हें सुबह दुकान खोलने का निर्देश दिया जबकि दोपहर बाद उनकी लेन को बदल दिया और दुकान बंद करने का बोल दिया। इसी प्रकार अन्य दुकानदार भी नाराज हो गए लेकिन निशान लगा रहे कर्मचारियों का नेतृत्व कर रहे सफाई निरीक्षक ने दुकानदारों से अभद्र व्यवहार किया। इससे दुकानदारों ने एसडीएम के सरकारी नंबर 98 123 00903 पर कॉल की लेकिन कोई जवाब नहीं मिला और ना ही एसडीएम ने अपना निजी नंबर पर कॉल पिक किया।

नगर परिषद सचिव ने समझाया, मुश्किल नहीं दिशा समझना

इस बारे में नगर परिषद सचिव ऋषिकेश चौधरी ने बताया कि नया सिस्टम लागू करने में सभी का सहयोग जरूरी है। बाजार तय करने के लिए सिरसा हाईवे पर पूर्व दिशा की ओर मुंह करके खड़ा होने पर जो दुकानें लेफ्ट साइड पर है वह लेफ्ट बाजार है और जो राइट साइड पर हैं वह राइट बाजार है। इसी प्रकार दक्षिण दिशा की ओर मुंह करने पर चौटाला हाईवे पर खड़े हो तो बस स्टैंड लेफ्ट और सिटी थाना राइट साइड बाजार तय की गई है। कॉलोनी रोड पर परस्पर उल्टा साइड लिख दिए जाने से कंफ्यूजन था लेकिन अब इसे ऐसा ही लागू रखा जाएगा।