बेटे ने चिट्टे की लत पूरी करने के लिए अपने घर से चोरी किए थे सोने के गहने

  • 24 घंटे में आरोपी और सुनार दोनों गिरफ्तार, 393 ग्राम सोना भी बरामद

सिरसा. जिला के युवा चिट्टा यानि हेरोइन की लत में ऐसे फंस गए हैं कि अब अपनी लत पूरी करने के लिए खुद के घर में ही चोरी जैसी वारदातों को अंजाम देने लगे हैं। ऐसी ही एक घटना जिला के गांव मोचीवाली में हुई। जब एक बेटे ने अपने ही घर से 24 लाख रुपये की कीमत का 530 ग्राम सोना चोरी करके सुनार और दोस्तों को बेच दिया। युवक चिट्टा का नशा करता है। इसलिए पुलिस ने भी इस मामले को 24 घंटे में ही सुलझाकर आरोपी युवक और सुनार को गिरफ्तार कर लिया है। डिंग थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने आरोपी युवक रविकांत, उसके दोस्त इंद्रपाल निवासी डिंग मंडी व मोचीवाली निवासी सुनार मोहनलाल पुको गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर लाखों रुपये का 393 ग्राम सोना बरामद कर लिया है ।
थाना प्रभारी ने बताया कि प्रांरभिक पूछताछ में पता चला है कि रविकांत नशे की पूर्ति के लिए ही उसने अपने पिता घनश्याम के घर से उक्त वारदात को अंजाम दिया।

6 मई को पिता ने करवाई थी अज्ञात पर शिकायत दर्ज

मोचीवाली निवासी घनश्याम सिंह ने डिंग थाना में 6 मई को शिकायत दी थी कि रात को उसके घर से सोना चोरी हो गया है। पुलिस ने शिकायत पर अज्ञात लोगों के पर केस दर्ज करके जांच शुरू की थी। पुलिस ने पहले घर के ही लोगों की डिटेल खंगाली। जिसमें से बेटे रविकांत की हिस्ट्री नशे के आदी के रूप में मिली। शक के आधार पर उसे उठाया गया और गहनता से पड़ताल की तो वह चिट्टे का आदी निकला और उसने कबूल किया।

नशे के नेटवर्क को तोड़ने का प्रयास कर रही पुलिस

एसपी डॉ. अरुण नेहरा ने बताया कि नशे की लत का शिकार होकर ही बच्चे क्राइम की दुनिया में कदम रख रहे हैं। हमारा पूरा प्रयास है कि जिला से नशा खत्म किया जाए। इसी के तहत हमने लॉकडाउन में भी नशा के खिलाफ सिरसा जिला में नशा तस्करों के खिलाफ जबरदस्त एक्शन हुआ है। पिछले 45 दिन में पुलिस ने 318 तस्कर गिरफ्तार किए हैं। जिसमें से 195 लोग शराब तस्करी में और 123 लोग एनडीपीएस में गिरफ्तार हुए।