दोसड़का में 31 लाख से भरे एटीएम को तोड़ने का प्रयास

  • शुक्रवार रात 12 बजकर 38 मिनट बजे वारदात को अंजाम देने पहुंचा नकाबपोश बदमाश

मुलाना. बीती रात चोरों ने दोसड़का स्थित एसबीआई के एटीएम को तोड़कर उसमें से रुपए चुराने की कोशिश की, लेकिन वह अपने प्रयास में कामयाब नहीं होता इससे पहले किसी व्यक्ति ने इसकी सूचना मुलाना पुलिस को दी। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले चोर फरार हो गया। सारी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। मुलाना पुलिस ने इस मामले में एटीएम की संरक्षक कंपनी एजीएस के एरिया मैनेजर अनिल कुमार की शिकायत पर चोर के खिलाफ धारा 457, 380, 427 व 511 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश आरंभ कर दी है।
वारदात शुक्रवार रात 12 बजकर 38 मिनट की है। चोर ने सबसे पहले एटीएम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे को तोड़ा और उसके बाद शटर का ताला तोड़ कर एसबीआई के एटीएम रूम में घुसा और एटीएम में लगे अलार्म को तोड़ा। उसके बाद 12 बजकर 39 मिनट पर वह एटीएम रूम से बाहर निकला। 12 बजकर 46 मिनट पर वह दोबारा एटीएम रूम में घुसा और उसने सीसीटीवी कैमरे को तोड़ने की कोशिश की और फिर बाहर चला गया। ठीक एक मिनट के बाद वह फिर पेचकस लेकर एटीएम रूम में घुसा और उसके बाद सीसीटीवी कैमरे को तोड़ दिया। उसके बाद ही चोर ने एटीएम को तोड़ने का प्रयास किया, लेकिन वह कैश तक नहीं पहुंच सका। यह भी माना जा रहा है कि शायद किसी के आने की आहट सुनकर चोर फरार हो गया।

एटीएम में थी 31 लाख की करंसी: अनिल
जिस एटीएम को तोड़ने का प्रयास किया गया। उसमें 31 लाख 40 हजार 500 रुपए की करंसी थी। एजीएस ट्रांजेक्ट टेक्नोलॉजी कंपनी के एरिया मैनेजर अनिल कुमार ने बताया कि इस एटीएम का संचालन उनकी कंपनी द्वारा किया जाता है। उन्होंने बताया कि रात को करीब 3 बजे उन्हें मुलाना थाना प्रभारी ने वारदात के बारे में सूचित किया।

रात को बंद रहता है एटीएम

शुक्रवार रात को चोर ने जिस एटीएम को तोड़ने का प्रयास किया। वह रात के समय बंद रहता है। सिक्योरिटी गार्ड विजय कुमार ने बताया कि उसकी ड्यूटी सुबह 8 बजे से रात के 8 बजे तक है। विजय कुमार के अनुसार उसे तो सुबह कैशियर का फोन आया और उसी समय उसे इस वारदात का पता चला।