खेत में खुले शराब ठेके को दाे गांवाें ने हटाने की मांग उठाई

  • झामरी व ढलानवास के ग्रामीण खेतों में मकान बना कर रहते हैं इसलिए आ रही परेशानी

साल्हावास. झामरी गांव के ग्रामीण खेतों में मकान बना कर रहते हैं दूसरी तरफ ढलानवास गांव के भी ग्रामीण खेतों मकान बना कर रहते हैं। आजकल ग्रामीण 50 प्रतिशत खेतों में रहते हैं। ऐसे में झामरी से ढलानवास रोड पर शराब का ठेका खुल रहा है। किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष राजेश झामरी ने पुलिस चौकी झाडली, जिला उपायुक्त से ठेके को हटवाने की मांग की है। झामरी से ढलानवास मैन रोड पर आवागमन ज्यादा रहता है। राजेश का कहना है कि उनके मकान से 80 मीटर दूरी पर शराब का ठेका बनाने की तैयारी की जा रही है। उसे इस स्थान से करीब चार पांच एकड़ दूर स्थापित किया जाए। उन्होंने कहा कि शराब का ठेका नजदीक होने से उन्हें काफी परेशानी होगी। उनका घर झामरी से ढलानवास रोड़ पर है।

अगर ठेका यहां खुलेगा तो वह परिवार के साथ घर छोड़ने पर मजबूर वापस गांव में चले जाएंगे। गांव से बच्चे बुजुर्ग महिला रात के समय डर रहेगा। किसी व्यक्ति के साथ कोई हादसा हो सकता है। झामरी गांव के सरपंच रोहतास सिंह अाैर ढलानवास गांव के सरपंच बलवान सिंह का कहना है कि शराब के लिए ग्राम पंचायत द्वारा कोई प्रस्ताव शराब का ठेका खुलवाने के लिए नहीं दिया। प्रधान राजेश झामरी का कहना है कि डीसी के पीए से बात की तो हमें पूरा भरोसा दिलाया गया है कि एप्लीकेशन एक्साइज विभाग के पास भेज दी है। वह मौका देखेंगे और ठेके काे लेकर ठाेस कदम उठाएंगे।