अनाजमंडी व खरीद केंद्रों में गेहूं का उठान धीमा, अभी भी एजेंसियों का हजारों क्विंटल गेहूं पड़ा खुले आसमान के नीचे

  • मंडी व खरीद केंद्रों पर अब गेहूं की आवक कम, गेहूं लिफ्ट करवाने के लिए खरीद एजेंसियों को जारी किए जा चुके हैं नोटिस: सविता

कलायत. मंडी व खरीद केंद्रों पर गेहूं की आवक जहां अब कम होने लगी है वहीं एजेंसियों द्वारा खरीदी गेहूं का उठाने में तत्परता नहीं दिखाई जा रही है जिसका प्रमाण इसी बात से मिलता है कि अब तक भी खरीदी गई गेहूं में से आधी का उठान भी खरीद एजेंसियों द्वारा नहीं किया गया। एक ओर गेहूं का लदान करवाने के लिए जहां मार्केट कमेटी द्वारा खरीद एजेंसियों को नोटिस जारी किए जा रहे हैं वहीं खरीदी गई गेहूं का भुगतान भी समुचित तौर पर जारी न होने पर किसानों के साथ मंडी में कार्य करने वाले अन्य व्यक्तियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
 सरकार द्वारा गेहूं खरीद करने के पश्चात निर्धारित समय अवधि में भुगतान करने की घोषणा की हुई है मगर अभी तक भी अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह में खरीदी गई गेहूं का भुगतान नहीं हो पाया है। किसानों द्वारा एजेंसियों की ओर देखा जा रहा है कि कब एजेंसियों द्वारा उनकी फसल का भुगतान किया जाता है और कब वे कृषि संबंधी कार्य व फसल कटाई के दौरान किए खर्च को निपटा पाते हैं। हालांकि कुछ एजेंसियों द्वारा थोड़ी बहुत राशि जहां जारी की जा चुकी है वहीं आने वाले सप्ताह में भी राशि जारी किए जाने कर आश्वासन दिया जा रहा है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में तैनात सतबीर सिंह ने बताया कि जहां कुछ राशि विभाग द्वारा पहले जारी की जा चुकी है वहीं और भी राशि ट्रेजरी से पारित हो चुकी है मगर शनिवार व रविवार का बैंक अवकाश होने के कारण सोमवार को खातों में राशि पहुंचनी शुरू हो जाएगा। इसी प्रकार वेयर हाउस में तैनात पवन कुमार ने बताया कि जिन खरीद केंद्रों पर उन्होंने शुरू में गेहूं की खरीद की थी, उसकी अधिकांश राशि जारी की जा चुकी है जबकि अनाज मंडी कलायत में भी खरीदी गेहूं की राशि जल्दी जारी होने वाली है। हैफेड के प्रबंधक सुखदीप सिंह ने बताया कि विभाग द्वारा राशि जारी करने में तत्परता दिखाई जा रही है। खरीदी गेहूं के संबंधित दस्तावेज ऑनलाइन होने में समय लग जाने के चलते भी राशि जारी करने में मामूली विलंब हुआ है। उन्होंने कहा कि जल्दी ही राशि जारी होने वाली है।
खरीदी गेहूं में से अभी आधे से अधिक पड़ा है खुले आसमान के नीचे : कलायत अनाज मंडी सहित सब यार्ड बालू व खरीद केंद्रों से एजेंसियों द्वारा गेहूं खरीदा गया है। मार्केट कमेटी से मिले आंकड़ों के अनुसार खरीद एजेंसियों द्वारा कलायत क्षेत्र में किसानों द्वारा लाई गई गेहूं के 19,17,044 बैगों की खरीद की जा चुकी है। इन खरीदे हुए गेहूं केे बैगों में से अब तक जहां 9,27,050 बैगों को लदान किया जा चुका है वहीं 9,89,994 बैग लिफ्ट होने हैं।

जारी किए जा रहे हैं नोटिस : सविता
मार्केट कमेटी सचिव सविता चौधरी ने बताया कि एजेंसियों द्वारा खरीदी गेहूं को लिफ्ट करवाने के लिए मार्केट कमेटी सजग है। उन्होंने बताया कि सभी खरीदी एजेंसियों को समय-समय पर नोटिस जारी कर जहां गेहूं लिफ्ट करवाने बारे कहा जा रहा है वहीं पूरी जानकारी प्रशासनिक अधिकारियों के संज्ञान में भी लाई जा रही है ताकि आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा सके। मंडी आढ़त एसोसिएशन प्रधान सुनील गर्ग ने बताया कि एजेंसियों द्वारा खरीदी गेहूं का भुगतान कार्य अभी सुचारू तौर पर नहीं शुरू हुआ। उन्होंने बताया कि गेहूं का भुगतान न होने से किसान व मंडी में कार्य करने वाले लोग काफी परेशान हैं। एजेंसियों को खरीदी गेहूं का भुगतान जल्दी कर देना चाहिए।