476 प्रवासी श्रमिकों को रोहतक और अम्बाला से ट्रेन में बैठा घरों को किया रवाना

कुरुक्षेत्र. लॉकडाउन शुरु होने के साथ ही जिले में कई जगह शेल्टर होम बनाए गए। जहां कई प्रवासियों को ठहराया गया है। वहीं विभिन्न साइट पर भी कई श्रमिक फंसे हुए हैं। अब इन सभी को उनके राज्यों में भेजा जा रहा है। जहां शेल्टर होम से साढ़े 300 से ज्यादा लोगों को कुछ दिन पहले यूपी भेजा गया था। वहीं अब जिले से 476 श्रमिकों को उनके घर भेज दिया गया है।

एसडीएम अश्वीन मलिक ने कहा कि कृषि क्षेेत्र में काम करने वाले श्रमिकों को नियमानुसार पुलिस लाइन बुलाया गया। पुलिस लाइन से हरियाणा रोडवेज की बसों से इन श्रमिकों को रवाना किया गया। इससे पहले डीसी धीरेंद्र खड़गटा के आदेशानुसार शुक्रवार को सुबह 4 बजे हरियाणा रोडवेज की बसें और संबंधित अधिकारी पुलिस लाइन पहुंच गए थे। यहां पर श्रमिकों के लिए व्यवस्थाएं की गई । उन्होंने बताया कि 280 श्रमिकों को रोहतक रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया गया। यह श्रमिक रोहतक से विशेष ट्रेन के माध्यम से अररिया पहुंचेंगे और 196 श्रमिकों को बसों के माध्यम से अम्बाला रेलवे स्टेशन तक पहुंचाया गया। यह श्रमिक अम्बाला से भागलपुर जाने वाली विशेष ट्रेन पश्चिमी चम्पारण में जाएंगे। इन श्रमिकों के लिए प्रशासन की तरफ से सुरक्षा व्यवस्था और स्वास्थ्य सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई है।