28 दिन बाद सेक्टर 7 और आस-पास के एरिया से कंटेनमेंट व बफरजोन खत्म, खुल सकेंगी मार्केट

  • सेक्टर 7 में कोरोना पॉजिटिव युवक मिलने के बाद 11 अप्रैल को बनाए थे कंटेनमेंट व बफरजोन

कुरुक्षेत्र. आखिरकार 28 दिन बाद सेक्टर 7 व आसपास के सेक्टरों को बंधनों से मुक्ति मिल गई। कोरोना पॉजिटिव युवक मिलने के बाद सेक्टर सात को कंटेनमेंट व पांच सेक्टरों को बफरजोन बनाया गया था। तब से सेक्टर 7 में हर तरह की गतिविधियां बंद थी। अब प्रशासन ने कंटेनमेंट व बफरजोन को खत्म करने की घोषणा की।
जिलाधीश एवं डीडीएमए के चेयरमैन धीरेंद्र खड़गटा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की एडवाइजरी के अनुसार शहर के लोगों को कंटेनमेंट व बफर जोन से निजात दी गई। अब सेक्टर 7 कंटेनमेंट जोन व सेक्टर 4, 5, 8, 9 व 10 और आसपास के क्षेत्रों में बफर जोन को समाप्त कर दिया। 28 दिन के बाद बहुत बड़ी राहत मिलेगी। लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को सतर्कता रखनी होगी। सोशल डिस्टेंस व मास्क लगाने के नियमों की पालना करनी होगी।
11 अप्रैल से शुरु हुई थी पाबंदियां | बता दें कि सेक्टर 7 वासी व सरकारी विभाग में मैनेजर के पद पर कार्यरत एक युवक 17 मार्च को जम्मू मेल से कुरुक्षेत्र आया था। उसके कोच में कश्मीर के कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे। रेलवे की तरफ से सूचना मिलने पर उक्त युवक के सैंपल लिए गए। पहला सैंपल निगेटिव निकला। लेकिन 11 अप्रैल को उक्त युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। जिस पर सीएमओ डाॅ. सुखबीर सिंह ने प्रशासन को सूचित किया। बताया कि सेक्टर में कोविड-19 के मरीज का रिपोर्ट पॉजिटिव है। ऐसे में गाइडलाइन के तहत सेक्टर 7 को कंटेनमेंट जोन बताया । जबकि इसके आसपास के 5 सेक्टरों को बफरजोन में शामिल किया गया। हालांकि उक्त युवक की बाकी सभी रिपोर्ट निगेटिव निकली। जिस पर उसे कोरोना मरीज नहीं माना। लेकिन एहतियात के तौर पर उसे आइसोलेशन में रखा गया। लगातार 2 बार रिपोर्ट निगेटिव आने पर उसे 23 अप्रैल को एलएनजेपी अस्पताल से छुट्टी मिल गई । लेकिन बफरजोन जारी रहा। सेक्टरों की सीमाएं तक सील की गई। लोगों के घरों से निकलने पर पाबंदी लगाई गई।
28 दिन बाद अब राहत, शुरु होंगी गतिविधियां | जिलाधीश ने शुक्रवार को आदेश जारी करे कि अब सेक्टर सात व कंटेनमेंट व सेक्टर 4, 5, 8, 9, 10 व डिवाइन सिटी माल को बफर जोन से हटाया जा रहा है। हालांकि इससे पहले पूरे क्षेत्र की स्क्रीनिंग करवाई गई। पिछले 4 सप्ताह के दौरान इस क्षेत्र में कोई भी कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला। वहीं उक्त युवक ने भी 28 दिन का क्वारेंटाइन पीरियड पूरा कर लिया। जिस पर कंटेनमेंट व बफरजोन के आदेशों को डि-नोटिफाईड किया गया। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के कंटेनमेंट प्लान प्रोविजन के तहत अब इस एरिया को कंटेनमेंट व बफरजोन से फ्री किया है ।