26 अप्रैल को बिकी गेहूं की पेमेंट किसान के खाते में देने पर नाराज आढ़तियों ने विधायक से लगाई गुहार

पूंडरी. अनाज मंडी एसोसिएशन ढांड के आढ़तियों का एक प्रतिनिधि मंडल प्रधान जिले सिंह व प्रधान लाजपत गोयल के नेतृत्व में हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन एवं विधायक रणधीर सिंह गोलन को पूंडरी उनके कार्यालय में मिला। जिसमें आढ़तियों ने 26 अप्रैल की एफसीआई द्वारा किसानों से सीधेतौर की गई गेहूं खरीद की पेमेंट को आढ़तियों के माध्यम से किए जाने व आढ़त दिलवाने की मांग की। प्रधान व अन्य आढ़तियों ने चेयरमैन को अवगत करवाते हुए बताया कि सोलूमाजरा स्थित सोलो गोदामों में जाने वाले किसानों के गेहूं की खरीद के लिए सरकार ने निर्देश दिए थे कि सोलो गोदामों में जाने वाली गेहूं आढ़तियों की बजाए सीधे किसानों से खरीद कर उनके खातों में अदायगी की जाएगी।
 जिसके लिए भी वे चेयरमैन गोलन को मिले थे और उनके प्रयासों से सरकार ने अपने निर्णय को वापस लेते हुए निर्देश जारी कर दिए थे। इन निर्देशों से पहले जो एक दिन 26 अप्रैल को एफसीआई द्वारा लगभग 40 हजार क्विंटल गेहूं खरीद किया गया था, अब एजेंसी उसकी पेमेंट आढ़तियों के माध्यम से न देकर सीधे किसानों को अदा करना चाह रही है, जबकि उस दिन गोदामों में जो किसान गेहूं लेकर गए थे, उसके लिए आढ़तियों ने किसानों को गेट पास व परफोर्मा भरवाकर भेजा था।
 अब एजेंसी व गोदामों के प्रबंधक कह रहे है कि उस दिन कि वे आढ़त न देकर सीधे तौर पर किसानों को गेहूं की अदायगी करेंगे। जिससे आढ़तियों को लगभग 20 लाख रुपए की आढ़त का नुकसान हो सकता है । मौके पर चेयरमैन के निजी सचिव संजीव गामड़ी, बलजोर सिंह, अनाज मंडी के पूर्व प्रधान गुलाब सिंह पाबला, जंगशेर नंबरदार, गुरबचन जडौला, सुभाष, रामकुमार सिंगला, नसीब जडौला, नरेश घराड़सी, सुनील जिंदल, संजय, रमेश गुर्जर, दीपक शर्मा, लालचंद, राजा बंदराणा, अमित, बाबू, जयपाल जडौला, रणधीर आहूं, लाला अशोक व करेशन पबनावा ने बताया कि इस बारे जब वे एफसीआई व सोलो गोदाम के अधिकारियों से मिले तो उन्होंने कहा कि अगर मार्केट कमेटी उन्हें लिखकर देती है तो वे आढ़तियों के माध्यम से ही आढ़त समेत पेमेंट कर देंगे।

आढ़तियों ने ढांड मार्केट कमेटी सचिव के प्रति भी रोष जताया
चेयरमैन गोलन से मिलने आए आढ़तियों ने ढांड मार्केट कमेटी सचिव के रवैये के प्रति भी रोष प्रकट करते हुए कहा कि आढ़ती कई बार सचिव से इस मामले को लेकर मिल चुके हैं, लेकिन वे टालमटोल कर उन्हें गुमराह करने का काम कर रहे हैं। इसके अलावा भी आढ़तियों के प्रति सचिव का रवैया ठीक नहीं है। चेयरमैन रणधीर गोलन ने तुरंत डीएम व सचिव मार्केट कमेटी ढांड से बात कर उन्हें 26 अप्रैल की गेहूं खरीद की पेमेंट पहले की भांति आढ़तियों के माध्यम से ही तुरंत करवाने के लिए कहा।