सड़क के एक तरफ पूंडरी-दूसरी तरफ फतेहपुर होने से ऑड-इवन नियम का नहीं हो रहा पालन

  • पूंडरी में फतेहपुर पंचायत की आड़ में ऑड-इवन फार्मूला रहा फेल

पूंडरी. पूंडरी शहर में लॉकडाउन के तहत बाजार खोलने के लिए गुरुवार से किए गए ऑड-इवन फार्मूला पंचायत फतेहपुर की आड़ में फेल नजर आया। पूंडरी व फतेहपुर की सीमाएं एक दूसरे से सटी हुई है। पूंडरी में नगरपालिका तो फतेहपुर में पंचायत कार्य करती है। पूंडरी शहर की अधिकतर दुकानें, मुख्य करनाल-कैथल रोड़ पर स्थित बाजार, अनाज मंडी पूंडरी, ढांड रोड व गुरु ब्रह्मानंद व गिरधर अहलुवालिया चाैक की पूरी मार्केट ग्राम पंचायत फतेहपुर के अधीन आती है। शहर की मुख्य दुकानें जिन पर भीड़-भाड़ भी अधिक रहती है, वो भी पंचायत परिधि में है। अब जो ऑड-इवन फार्मूला लागू किया गया है, वो शहर के लिए किया गया है, जबकि फतेहपुर पंचायत को इससे बाहर रखा गया है। हकीकत ये है कि कहने को पूंडरी शहर जरूर है, लेकिन लगभग 60-70 प्रतिशत दुकानें फतेहपुर पंचायत की परिधि में आती है और वे सभी खुली भी रही और भीड़ भी दिखाई दी। क्षेत्रवासियों का कहना है कि शहर और गांव एक दूसरे से सटे हो के कारण ऑड-इवन फार्मूला पूरे शहर के लिए लागू किया जाए, चाहे वो किसी कि भी परिधि में क्यों न आए।

इस बारे पुलिस कुछ नहीं कर सकती है। कोविड-19 की गंभीरता को देखते हुए व्यापार मंडल, बीडीपीओ, ग्राम पंचायत, नगरपालिका चेयरमैन व फतेहपुर-पूंडरी के गणमान्य लोग आपस में मिल बैठकर संयुक्त फैसला ले, पुलिस लिए फैसले को लागू करवा देगी। बीमारी को देखते हुए फतेहपुर की परिधि में आने वाले दुकानदारों को सामूहिक तौर पर सोशल डिस्टेंस रखने के लिए फैसला लेना चाहिए। – कृष्ण कुमार, डीएसपी पूंडरी

फतेहपुर पंचायत के अधीन आने वाले बाजार की दुकानों पर भी नंबर लगवा दिये है। भीड़ को देखते हुए ऑड-इवन का फार्मूला फतेहपुर के बाजार की दुकानों पर भी लागू रहेगा जिससे शुक्रवार से पूर्ण रूप से लागू कर दिया जायेगा। इसके लिए एसएचओ पूंडरी से भी बात की गई है और उन्हें भी इस फार्मूले से अवगत करवा दिया गया है। – नीरज यादव, बीडीपीओ पूंडरी।