शुक्रवार को लाडवा में खुली लेफ्ट साइड की दुकानें एसडीएम अनिल यादव ने किया बाजारों का दौरा

लाडवा. लाडवा में शुक्रवार को लॉकडाउन के दौरान शहर के अंदर लेफ्ट साइड की दुकानें खुली। गुरुवार शाम को नपा प्रशासन की ओर से शहर के अंदर लेफ्ट और राइट के निशान बनाए गए। इसके साथ ही स्थानीय प्रशासन ने आदेश जारी किया कि शुक्रवार सुबह लेफ्ट साइड के दुकानदार अपनी दुकान खोलेंगे। वहीं राइट साइड के दुकानदार शनिवार को अपनी दुकान खोलेंगे। लाडवा एसडीएम अनिल यादव ने शुक्रवार सुबह लाडवा शहर का दौरा किया और जिन दुकानदारों ने अपनी दुकानों पर सेनेटाइजर का प्रयोग नहीं किया हुआ था उनकी खिंचाई की। वहीं दवा की दुकानों व करियाना की दुकानों पर रेट लिस्ट भी लगाई गई। जिन दुकानदारों के पास इस प्रकार की व्यवस्था नहीं मिली उन्हें एसडीएम ने अपने कार्यालय में बुलाया।
शुक्रवार सुबह शहर के दुकानदारों को समझ में नहीं आया कि किसकी दुकान लेफ्ट साइड पर पड़ती है और किसकी दुकान राइट साइड में पड़ती है। नपा की ओर से गुरुवार रात को पूरे शहर के अंदर लेफ्ट व राइट के निशान नहीं बन पाए थे। एसडीएम ने कहा कि लेफ्ट या राइट के अनुसार जिस दिन जिसकी बारी है वही दुकान खोलेंगे।
लेफ्ट व राइट सिस्टम से मिठाई दुकानदारों में मायूसी

शुक्रवार को प्रशासन की ओर से लेफ्ट व राइट के हिसाब से दुकानें खुलवाने का काम किया गया। जिसके चलते होटल, ढाबे व मिठाई संचालकों में मायूसी रही। मिठाइयों की दुकानों के मालिकों ने कहा कि महामारी के चलते यह कानून सही है। लेकिन हम सभी का कच्चा काम है और एक दिन दुकान खोलने व दूसरे दिन बंद करने से उनका सामान खराब हो सकता है। जिसके कारण उन्हें नुकसान उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि रोजाना ताजा दूध लेना पड़ता है। लेकिन बंद होने के कारण दूध नहीं रखा जा सकता और मिठाइयों का भी खराब होने का डर रहता है। वहीं होटल व ढाबों के संचालकों ने कहा कि 9 बजे से 2 बजे तक का समय कम है और अगर लेफ्ट या राइट के हिसाब से होटल व ढाबों को खोलना पड़ा तो उनका खर्च भी पूरा नहीं हो पाएगा।