लॉकडाउन में छूट से बाजारों में सोशल डिस्टेंस बना चुनौती अब लेफ्ट-राइट व ऑड-इवन फार्मूले से खुलेंगे बाजार

  • प्रशासन को बदलना पड़ा फैसला, सुबह 9 से 2 बजे तक खोल सकेंगे दुकानें
  • शाम 7 से सुबह 7 बजे तक रहेगी कर्फ्यू जैसी स्थिति, नहीं निकल सकेंगे बाहर

कुरुक्षेेत्र. लॉकडाउन के तीसरे चरण में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के मकसद से सरकार ने कई रियायतें दी। डेढ़ माह से बंद पड़े बाजार खोलने का फैसला लिया। चार मई से शहर में बाजार खुल भी गए। बाकायदा रोस्टर बना दिन के अनुसार दुकानें खोलने की मंजूरी दी, लेकिन बाजार खुलते ही भीड़ जुटने लगी। इससे सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने की चुनौती खड़ी हो गई। तमाम प्रयासों के बावजूद सोशल डिस्टेंस नहीं बन पाया। इसे देखते हुए गुरुवार को प्रशासन ने अपना फैसला फिर से बदला। अब दिन के अनुसार नहीं, लेफ्ट राइट व ऑड ईवन फार्मूले से बाजारों में दुकानों को खोला जाएगा। एक दिन लेफ्ट साइड तो दूसरे दिन राइट साइड की दुकानें खुलेंगी। दुकानें सिर्फ पांच ही घंटे खोल सकेंगे। शुक्रवार से नया रोस्टर लागू हो जाएगा। यही नहीं नगरपरिषद की तरफ से बाजारों में लेफ्ट राइट के निशान भी बनवा दिए हैं। लॉकडाउन के नियमों की पालना करनी होगी। नई व्यवस्था को लेकर गुरुवार को विधायक सुभाष सुधा ने व्यापारियों की मीटिंग बुलाकर सहयोग भी मांगा।
इन दिनों में लेफ्ट व ऑड से दुकानें

डीसी धीरेन्द्र खड़गटा ने कहा कि नगर परिषद, नगर पालिका व ग्रामीण क्षेत्रों में अब सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को प्रशासन द्वारा निर्धारित किए लेफ्ट साइड की सभी दुकानें खुलेंगी। इसके साथ-साथ एचएसवीपी, हुडा की ऑड संख्या की दुकानें इन दिनों में खोलने की अनुमति होगी, लेकिन मॉल बंद रहेंगे।

इन दिनों मॉल रहेंगे बंद
राइट साइड की दुकानें मंगलवार, गुरुवार व शनिवार को खोली जाएंगी। इसके साथ-साथ एचएसवीपी की ईवन संख्या की दुकानें खोली जा सकेंगी। इन दिनों में भी मॉल नहीं खोले जाएंगे।
गोला नहीं, तो दुकान बंद
सोशल डिस्टेंस की पालना करनी होगी। दुकान के सामने 6 फीट की दूरी पर गोले बने हों। दुकान पर हैंड सेनिटाइजर हो। दुकान के काउंटर, डेस्क और कुर्सियों को दिन में दो बार सेनिटाइज किया जाएगा। बाहर वाहन की पार्किंग नहीं होनी चाहिए। दुकान के बाहर सामान नहीं रख सकेंगे। दूध को छोड़कर बाकी दुकानें रविवार को बंद रहेंगी। दुकान में दुकानदार व हेल्पर समेत पांच लोग से ज्यादा न हों। रेस्टोरेंट और अन्य खाद्य पदार्थों वाले स्थानों पर बैठकर खाने की इजाजत नहीं होगी, लेकिन ऐसे संस्थान सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक पैकिंग और होम डिलीवरी कर सकेंगे।'

बाजार में लाल रंग राइट, पीला लेफ्ट साइड
नगर परिषद की तरफ से दाएं और बाएं दुकानों खोलने के लिए बाजारों में लाल और पीले रंग के निशान लगाए जा रहे हैं। विधायक ने नप को निर्देश दिए कि शुक्रवार सुबह तक हरहाल में सभी बाजारों में निशान लग जाएं। लाल रंग के निशान राइट और पीले रंग के निशान लेफ्ट साइड के लिए होगा। मीटिंग में नप ईओ बीएन भारती, नप सचिव केएल बठला, व्यापारी नेता फतेह चंद गांधी, प्रदीप झां, धर्मेन्द्र सचदेवा, रामकरण सैनी,गगन कोहली, श्याम सुंदर तिवारी, राजेश्वर गोयल, राहुल कुमार बाली, मनोज गोयल, तिलकराज सहगल, हरीश अरोडा, राजीव सूरी उपस्थित थे।

10 बजे तक होलसेल
फल एवं सब्जी मंडियों में सुबह 7 से 10 बजे तक होल सेल की जा सकेगी। रिटेल में फल व सब्जियां बेचने की इजाजत नहीं होगी। पेट्रोल पम्प पूरा सप्ताह 24 घंटे खुले रहेंगे। निजी कार्यालय 33 प्रतिशत स्टाफ के साथ सुबह 9 बजे से 2 बजे तक खुलेंगे। दूध व डेयरी उत्पाद से जुड़ी दुकानें रोजाना सुबह 9 से 2 बजे तक खुली रहेंगी। घर-घर दूध की सप्लाई करने वाले दूध विक्रेता सुबह 7 9 बजे तक और सायं 5 बजे से सायं साढे छह बजे तक सप्लाई कर सकेंगे। एसडीएम, डीएसपी निरीक्षण करेंगे। शाम सात से सुबह सात बजे तक कर्फ्यू जैसी स्थिति रहेगी। 65 वर्ष से ज्यादा आयु, गर्भवती महिला, 10 वर्ष से कम के बच्चे व बीमार लोग बाहर नहीं जा सकेंगे।