रेलवे अंडर पास में अब नहीं भरेगा बरसाती पानी, रेलवे विभाग यहां टीन की छत बनवाएगा

कैथल. स्थानीय जींद रोड पर बना रेलवे अंडर पास में अब बरसाती पानी जमा होने की समस्या नहीं रहेगी। इस समस्या के हल के लिए रेलवे विभाग अब अ अंडर पास के खुले हिस्से पर टीन की छत बनाएगा। जिसके बाद यहां बरसाती पानी नहीं आ सकेगा। यह काम आज से आरंभ किया गया है। करीब एक माह में यह काम पूरा होगा। यहां पर छत बनवाने की मांग को लेकर रेल यात्री कल्याण समिति करीब चार साल से संघर्ष कर रही थी।
 इस मुददे को प्रशासनिक स्तर से लेकर रेलवे विभाग के उच्चाधिकारियों के समक्ष भी उठाया गया था। जिसका आज परिणाम मिला है। रेल यात्री कल्याण समिति के उपप्रधान लाजपत राय सिंगला ने बताया कि अंडर पास पर छत बनना सुखद है। इससे वाहन चालकों सहित प्रत्येक व्यक्ति को यहां से आने-जाने में अब परेशानी का सामना नहीं करना होगा। उन्होंने इस समय स्थिति यह है कि थोड़ी सी बरसात होते ही अंडर पास होते ही यहां पर पानी भर जाता था। जिस कारण यहां से आने-जाने वाले राहगीरों को परेशानी होती थी। वहीं पानी कई-कई दिनों तक खड़ा रहता था। जिससे अंडर पास की सडक़ पूरी तरह से टूटी चुकी है। गडढों के कारण वाहन चालक गिर कर चोटिल हो रहे हैं। दो दिन पहले आई बरसात का पानी भी यहां अभी तक जमा है। छत का निर्माण करने के लिए पहुंचे मोहित ने बताया कि एक माह के समय में यहां काम पूरा कर दिया जाएगा। रेलवे विभाग की ओर से यहां काम करवाया जा रहा है, ताकि अंडर पास में पानी न भरे। इस अवसर पर चेयरमैन सतपाल गुप्ता, करमचंद जिंदल, बलवंत जाटान, अश्वनी हृतवाल, डॉ. संजय, सुरेंद्र अरोड़ा भी उपस्थित रहे।