परिजन गए थे दवा लेने, किशोरी ने घर में फंदा लगाकर दी जान

जगाधरी. हर दिन टिक टॉक पर नए-नए वीडियो बनाकर शेयर करने वाली 14 साल की लड़की ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। उसने यह सब तब किया जब घर पर कोई नहीं था माता-पिता दवाई लेने गए हुए थे। वापस आए तो देखा बेटी ने अंदर से दरवाजा बंद किया हुआ था और फंदे पर जुड़ी हुई थी। मृतका अपने माता-पिता की इकलौती संतान थी।
 बताया जा रहा है कि वह माता-पिता से नए मोबाइल की मांग कर रही थी। हालांकि यह क्लियर नहीं है इस ने सुसाइड क्यों किया। पुलिस के अनुसार विष्णुनगर निवासी वीरेंद्र एक स्क्रैप कारोबारी के पास पास काम करता है। वीरवार दोपहर बाद उसकी पत्नी को पेट दर्द हुआ। वह उसे दवा दिलाने के लिए मार्केट लेकर गया। इस दौरान घर पर उसकी 14 वर्षीय बेटी अकेली थी। शाम को जब वे वापस लौटे, तो उन्होंने देखा कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद है। जब खिड़की से झांककर देखा, तो उनकी बेटी फंदे से लटकी हुई थी। वीरेंद्र ने पड़ोसियों की मदद से खिड़की तोड़ी और अंदर पहुंचा। उसने बेटी को फंदे से नीचे उतारा।
लेकिन त‌ब तक उसकी मौत हो चुकी थी। वीरेंद्र का कहना है कि पता नहीं बेटी ने ऐसा क्यों किया। वह पढ़ाई में भी होशियार थी। वे भी उससे बहुत प्यार करते थे। जब वह घर से गए, तब कोई ऐसी बात नहीं थी। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर फर्कपुर पुलिस मौके पर पहुंची। जांच के दौरान कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं बरामद हुआ। फर्कपुर थाना प्रभारी मुकेश का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवाया दिया गया है। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। सुसाइड के कारणों का पता नहीं चला है।