ओवरलोड पर कार्रवाई के लिए टीम सहित पहुंचीं एडीसी, वाट्सएप ग्रुप में सूचना पहले ही हो गई वायरल, वाहन छोड़ खिसके चालक

जठलाना. ग्राम पंचायतों सहित अन्य सामाजिक संस्थाएं ओवरलोड का विरोध जता रही हैं। ओवरलोड की शिकायतों पर गुरुवार को एडीसी प्रतिमा चौधरी ने आरटीओ विभाग के अधिकारियों की टीम के साथ खनन क्षेत्र गुमथला का दौरा किया लेकिन अधिकारियों के आने की सूचना पहले ही रैकी ग्रुप द्वारा वाहन चालकों के ग्रुप में दे दी गई।
ओवरलोड वाहन चालकों से जुड़ा प्रशासन की रैकी करने वाला ग्रुप आज भी क्षेत्र में सक्रिय है। गुमथला मार्ग पर प्रशासन की टीम पहुंचने की सूचना जैसे ही वायरल हुई, तो ओवरलोड वाहन चालक अपने-अपने वाहनों को छोड़ इधर उधर खिसक लिए। रैकी ग्रुप में पल-पल की अपडेट जारी रही। ग्रुप से जुड़े वाहन चालक भी अपनी-अपनी सुविधा अनुसार ग्रुप से जानकारी जुटाते रहे।
जब तक अधिकारियों की टीम क्षेत्र में रही तो ओवरलोड का पहिया थमा रहा लेकिन टीम के जाने के बाद फिर से ओवरलोड वाहन नियमों को रौंदते हुए आगे बढ़ने लगे। रैकी ग्रुप एक बार फिर से प्रशासन की कार्रवाई पर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। अभी तक प्रशासन इस ग्रुप पर नकेल कसने में कामयाब नहीं हुआ है। केवल एक बार इस प्रकार के ग्रुप को चला रहे लोगों के खिलाफ प्रशासन द्वारा कार्रवाई की गई थी लेकिन उसके बाद फिर से प्रशासन का सुस्त रवैया इस ग्रुप को पनपने में मदद कर रहा है।

पुलिस नाके से गुजरते रहते हैं ओवरलोड वाहन

क्षेत्रवासी वरयाम सिंह, सर्वजीत, सोनू, विनोद कुमार, अमरजीत, शेर सिंह व पंकज ने कहा कि ओवरलोड वाहन राष्ट्र संपत्ति सड़काें को नुकसान पहुंचा रहे है। ओवरलोड का मुद्दा लंबे समय से उठा रहे हैं। ओवरलोड वाहन क्षेत्र में लगे पुलिस नाकों से होकर गुजरते हैं लेकिन किसी भी नाके पर इन्हें रोका तक नहीं जाता लेकिन फिर भी प्रशासनिक अधिकारी इससे अंजान बने हुए हैं।