शराब ठेकों से हटा लॉकडाउन, कई जगह खाली मिले तो लोगों को लौटना पड़ा मायूस

  • शराब ठेकों से हटा लॉकडाउन, कई जगह खाली मिले तो लोगों को लौटना पड़ा मायूस

कुरुक्षेत्र. छह अप्रैल को शराब के ठेकों का लॉकडाउन खुल गया। ठेके खुलने की सूचना पर पीने वालों के चेहरे खिल उठे, लेकिन ठेकों पर पहुंच कइयों को मायूसी हाथ लगी। दरअसल अधिकांश ठेकों पर शराब ही नहीं पहुंची। ऐसे में खाली ठेकों के बाहर लोग दिनभर चक्कर ही काटते दिखे। इधर जिले में आबकारी विभाग की तरफ से इस साल के लिए अब तक 54 ठेके अलॉट किए जा चुके हैं। नए ठेके देने की प्रक्रिया लॉकडाउन से पहले ही पूरी हो चुकी थी, लेकिन नए ठेके छूटते ही लॉकडाउन शुरू हो गया था।
मार्च में हुई बोली, 98 करोड़ मिले

मार्च में नए ठेके देने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी थी। 18 मार्च को जिले में इस साल के लिए ठेके ऑनलाइन बोली के द्वारा दिए गए। इससे पहले की नए ठेकेदार काम संभालते, 24 मार्च से लॉकडाउन शुरू हो गया। जिला आबकारी अधिकारी राजकुमार के अनुसार जिले में शराब ठेकों के लिए 27 रीजन बनाए गए हैं। हर रीजन में दो ठेके हैं। इस साल विभाग का लक्ष्य 100 करोड़ लाइसेंस फीस जुटाना है।
मार्च में हुई बोली, 98 करोड़ मिले

मार्च में नए ठेके देने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी थी। 18 मार्च को जिले में इस साल के लिए ठेके ऑनलाइन बोली के द्वारा दिए गए। इससे पहले की नए ठेकेदार काम संभालते, 24 मार्च से लॉकडाउन शुरू हो गया। जिला आबकारी अधिकारी राजकुमार के अनुसार जिले में शराब ठेकों के लिए 27 रीजन बनाए गए हैं। हर रीजन में दो ठेके हैं। इस साल विभाग का लक्ष्य 100 करोड़ लाइसेंस फीस जुटाना है।