बाजार खुल गए लेकिन दुकानों में खत्म हुआ सामान का स्टॉक

  • बाजार खुल गए लेकिन दुकानों में खत्म हुआ सामान का स्टॉक बाजार खुल गए लेकिन दुकानों में खत्म हुआ सामान का स्टॉक

हांसी. शहर में बाजार तो खुल गए हैं लेकिन दुकानों पर स्टॉक की समस्या होने लगी है। कपड़े, फुटवियर से लेकर हर तरह का सामान दिल्ली के जरिए आता था। लॉकडाउन के चलते दिल्ली में अभी थोक बाजार, फैक्ट्रियां न खुलने के कारण यहां पर स्टॉक नहीं आ रहा। न ही कारोबारी दिल्ली से माल लाने के लिए जा सकते हैं। रेडीमेड गारमेंट्स, फुटवियर, लेडीज सेट, जनरल आईटम, ब्यूटी प्रॉडक्टस जैसी आईटम का माल दिल्ली से नहीं आ रहा। न ही कारोबारी अभी माल खरीदने के लिए वहां जा सकते हैं।

ट्रांसपोर्ट के जरिए माल मंगवाने वाली सुविधा अभी शुरू नहीं हुई। कुछ तरह का माल आ रहा है, वहां पेमेंट एडवांस मांगी जा रही है। ऐसे में कारोबारी एडवांस पेमेंट का रिस्क नहीं ले रहे, क्योंकि बाजार खुले अभी ज्यादा दिन नहीं हुए। रेडीमेड गारमेंट्स का माल दिल्ली व लुधियाना से आता है। दिल्ली रेड जोन में है। वहीं पंजाब में कर्फ्यू है। गर्मियों का ज्यादा स्टॉक दुकानदारों के पास नहीं है। गारमेंट्स व कपड़ों का माल नवरात्रि के आस पास मंगवाया जाता है। नवरात्रि से पहले ही लॉकडाउन लागू हो गया। ऐसे में कारोबारी गर्मियों का ज्यादा स्टॉक नहीं ले सके। जिनके पास है, वह मुहमांगे दामों पर माल बेच रहे हैं। शूज आईटम जैसे फैंसी जूती, स्पोर्टस शूज जैसी आइटम भी दिल्ली से आती हैं।

हांसी से भी दिल्ली जाता है स्टॉक

हांसी की अमर मार्केट में जूती का स्टॉक दिल्ली भी जाता है, लेकिन यहां से यह स्टॉक अब दिल्ली भी नहीं जा पा रहा। वहीं लेडीज सूट का माल गुजरात के सूरत, अहमदाबाद से दिल्ली व रोहतक तक आता है। जिसके बाद कारोबारी वहां से खरीद कर दुकानों पर लाते हैं। लेकिन गुजरात के यहां माल नहीं आने के कारण स्टॉक नहीं है। न ही ट्रांसपोर्ट वहीं जनरल स्टोर की शॉप पर ब्यूटी प्रॉडक्ट्स भी मनचाहे ब्रैंड के नहीं मिल रहे। जो मिल रहे हैं उनमें भी पैकिंग नहीं है। इसके अलावा रुटीन की आइटम जैसे अंडरगारमेंट्स, पर्स, बेल्ट आदि का स्टॉक भी एजेंसियों के माध्यम से पूरा नहीं मिल रहा। ऐसे में दुकानों पर अभी जो स्टॉक पड़ा है, उसकी बिक्री की जा रही है। ग्राहकों को अपने मनचाहे कपड़े, शूज नहीं मिल रहे। वैसे लॉकडाउन में अभी बाजारों में ऐसे गैर जरूरी सामानों की सेल अभी कम है।