पूर्व सीएम हरीश रावत ने जताई चिंता, बोले- गुड़गांव के जिन संस्थानों में ये संक्रमित हुई वो इनको पूछ भी नहीं रहे

  • गुड़गांव के अलग-अलग अस्पतालों से स्वास्थ्य कर्मी हो चुके हैं कोरोना संक्रमित
  • कोरोना मरीजों को गुड़गांव के ईएसआई अस्पताल में करवाया गया है भर्ती

गुड़गांव. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ट्वीट कर गुड़गांव के उन अस्पतालों पर निशाना साधा है, जिनके यहां उत्तराखंड की कुछ नर्स संक्रमित हो गई और उन अस्पतालों ने फिर उनकी पूछ तक नहीं की। उन्होंने राज्य से जुड़े अधिकारियों को इनकी सुध लेने की गुजारिश की है।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ट्वीट कर कहा कि मुझे, एक चिंताजनक समाचार गुड़गांव से मिला है। हमारी उत्तराखंड की बेटियां, ईएमआई अस्पताल में करीब 25 नर्सें, जो अपने ड्यूटी काल में कोरोना से संक्रमित हुई हैं, भर्ती हैं और जिन प्रतिष्ठित संस्था में वो काम करती थी, वो संस्था उनकी कोई पूछताछ नहीं कर रही है, उनको संक्रमित बताकर सीधे अस्पताल में भर्ती कर दिया गया।

इन नर्सों को सीधे अस्पताल में भर्ती कर दिया गया। आज उनके पास कपड़े बदलने को भी हैं या नहीं हैं, कोई पूछने वाला नहीं है और 3-3, 4-4 नर्से, एक ही कमरे के अंदर रखी गई हैं। जो दूसरे की जिंदगी बचा रही थी, आज अपनी जिंदगी के लिए संघर्ष करती प्रतीत हो रही हैं, भगवान उनकी मदद करें।

मुझे, एक चिंताजनक समाचार #गुडगांव से मिला है। हमारी #उत्तराखंड की #बेटियां, #ESI हॉस्पिटल में करीब 25 #नर्सेज, जो अपने ड्यूटी काल में #कोरोना से संक्रमित हुई हैं, भर्ती हैं और जिन प्रतिष्ठित संस्था में वो काम करती थी, वो संस्था उनकी कोई पूछताछ नहीं कर रही है, उनको संक्रमित

— Harish Rawat (@harishrawatcmuk) May 6, 2020

हरीश रावत ने राज्य सरकार के वरिष्ठ पदाधिकारियों से निवेदन किया है कि ईएसआई अस्पताल में जा कर स्थिति को देखकर उनकी मदद करें। उन्होंने कहा कि मैं राज्य सरकार के वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों से निवेदन करूंगा कि, ईएसआई अस्पताल में जाकर, उनकी स्थिति को जरा देखें और मेरी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से प्रार्थना है, दूसरों के लिए अपना जीवन अर्पित करने वाली, इन नर्सों की ठीक से देखभाल की जाए।

कांग्रेस नेता के इस ट्वीट के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन हरकत में आया। जिला प्रशासन ने बताया कि गुड़गांव के ईएसआई अस्पताल में 56 कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती हैं, जिसमें से आज शाम को 3 नए मरीज जो कि गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल के स्टाफ हैं, उनको भी भर्ती किया गया है। हालांकि, इनमें कितन स्वास्थ्यकर्मी यानी नर्सें हैं, इस बारे में प्रशासन की तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गई।