इंडियन टीम के हैंडबॉल प्लेयर नवीन घर पर रहकर खेती में करवा रहे मदद

  • बचपन में बिना स्पोर्ट्स शूज पहने शुरू की थी प्रैक्टिस तो आज एशियाई गेम्स में खेलने के लिए हैं तैयार
  • हैंडबॉल के लिए एशियाई खेलों में खेलने वाले हिसार के एकमात्र खिलाड़ी है नवीन

हिसार. गरीबी में संघर्ष को अपनी ताकत बनाकर मेहनत करने वाला कभी असफल नहीं होता। ऐसी ही एक कहानी है हिसार जिले के लाडवा गांव के बहुत ही गरीब परिवार में जन्मे नवीन पुनिया की जो इंडियन टीम के हैंडबॉल प्लेयर हैं।
नवीन का सपना 2022 में होने वाला एशियन गेम में भारतीय टीम को स्वर्ण पदक दिलाना है। फिलहाल नवीन लॉकडाउन के चलते घर पर ही प्रैक्टिस कर रहे हैं। वे घर पर खेतों का काम कर व इस समय में गेहूं निकाल स्टोर करने में भी घरवालों का साथ दे रहे हैं। उनके पिता राम कुमार ड्राइवर थे और इतने पैसे कमा पाते कि जिससे घर का गुजारा बड़ी मुश्किल से चलता। मेहनत ऐसी की बचपन में पैरों में जूते नहीं होते थे पर आज अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी है। वे एशियाई खेलों में भारत की हैंडबॉल टीम के लिए खेलने वाले हिसार से एकमात्र खिलाड़ी हैं।

घर पर रहकर सरकार के निर्देशों का करें पालन

नवीन ने सभी काे घर पर सुरक्षित रहने का संदेश दिया है। नवीन का कहना है कि आज देश ऐसे दुश्मन से लड़ रहा है जिसको कोई देख नहीं सकता है। उसे समझने के लिए आज भी पूरी दुनिया जुटी हुई है। ऐसे में सरकार जो भी दिशा निर्देश दे रही है उनका पालन करें। जब भी घर से बहार निकलें मास्क का प्रयोग करें। जरूरी काम के लिए ही बाहर निकलें। सेनिटाइजर से हाथ धोएं व पर्सनल डस्टिेंसिंग को ध्यान रखें। इसके साथ ही फिट रहने के लिए घर पर ही वर्कआउट करें।