अब शहर में बिजली-पानी और सीवरेज सिस्टम को दुरुस्त करने पर फोकस

  • लोगों को अब बिजली कटों से मिलेगी निजात, मोहन नगर, साधु मंडी व सेक्टर 17 के लिए तैयार हुए नए फीडर

कुरुक्षेत्र. हर साल गर्मियों के सीजन में शहर व जिला वासियों को अघोषित कट झेलने पड़ते हैं। इस बार भी गर्मी बढ़ने के साथ ही कटों का सिलसिला बढ़ने लगा है। हालांकि अभी लॉकडाउन की वजह से पर्यावरण साफ सुथरा होने के चलते लोग एसी-कूलर आदि कम ही चला रहे हैं। लेकिन लॉकडाउन के बाद इस स्थिति में बदलाव होना तय है। ऐसे में कट और बढ़ेंगे। हालांकि बिजली विभाग भी अपनी तरफ से प्रबंधों में जुट गया है। शहर में कटों से बचाने के लिए और फीडर बढ़ाए जा रहे हैं। शहर में तीन फीडर नए बनेंगे जिससे मोहननगर, सेक्टर 17 और साधुमंडी एरिया में लोगों को कटों से निजात मिल सकेगी। इसे लेकर बुधवार को विधायक सुभाष सुधा ने सर्किट हाउस में अधिकारियों की मीटिंग ली। बाढ़ बचाव व पानी निकासी के प्रबंधों को लेकर भी मीटिंग हुई। इससे पहले विधायक सुभाष सुधा ने बिजली विभाग, जन स्वास्थ्य, नगर परिषद, सिंचाई व लोक निर्माण विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारियों से मानसून सीजन के लिए बरसात के पानी निकासी और बाढ़ बचाव को लेकर किए गए प्रबंधों तथा गर्मी के सीजन में लोगों को निरंतर बिजली मुहैया करवाने के लिए बिजली महकमे द्वारा किए प्रबंधों की फीडबैक ली।
अटके काम अब होंगे शुरु

विधायक ने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को गुरुद्वारा छटी पातशाही से लेकर नरकरतारी रोड पर जयभारती स्कूल तक नाले की सफाई करने, शहर की सीवरेज व्यवस्था को ठीक करने, लोगों को पीने के पानी की निरंतर सप्लाई देने, नगर परिषद के अधिकारियों को नालों की सफाई करने, अमृत योजना के साथ-साथ अन्य अधूरे विकास कार्यो को शुरू करने, रेलवे रोड़ सड़क निर्माण कार्य को शुरु करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है।
ड्रेनेज सिस्टम की होगी सफाई, 8 तक टेंडर

सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सरस्वती की सफाई करने, अधूरे निर्माण कार्य को पूरा करने, खानपुर कोलियां से राष्ट्रीय राजमार्ग तक कार्य शुरू करने, किरमिच ड्रेन की सफाई करने, पानी निकासी के लिए 10-10 क्यूसिक के पम्प लगाने, लुखी, बगथला, समसपुर, छैलों में पानी निकासी के लिए 2 पम्प लगाने के साथ ही ड्रेनों की सफाई व्यवस्था के लिए 8 मई तक टेंडर लगाने तथा निर्धारित समयावधि में कार्यो को पूरा करने के सख्त आदेश दिए है। उन्होंने कहा कि पिपली से थर्ड गेट तक सड़क निर्माण कार्य के दौरान सभी विभाग अपने-अपने विभागीय स्तर के कार्यो का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों से सम्पर्क करके सड़क निर्माण कार्य को बेहतर बनाने में सहयोग करेंगे। सभी अपने अपने विभाग के काम 31 मई तक पूरा करेंगे। इसके बाद जून के पहले हफ्ते में निरीक्षण होगा।

आंधी में नहीं जाएगी बिजली

अधिकारियों ने दावा किया कि बिजली विभाग की तरफ से बीबीएन से लेकर पिपली रोड स्टेडियम के सामने से ग्रीन बेल्ट में बिजली की नई केबल बिछा दी है। इसी तरह सेक्टर 7, 4, 2 व 3 ग्रीन बेल्ट में भी नई तार बिछा दी है। इन तमाम व्यवस्थाओं पर बिजली विभाग की तरफ करीब 40 लाख का बजट खर्च किया जा रहा है।