बोली-घटिया हैंड सेनिटाइजर दिए, पैसे वापस मांगे तो मालिक ने घूमने चलने का ऑफर दिया

  • आरोप- पंजोखरा पुलिस ने शिकायत दबाए रखी, एसडीएम के आदेश पर डिफेंस कॉलोनी में पहुंची पुलिस

अम्बाला. जालंधर की एक महिला ने डिफेंस कॉलोनी में आयुर्वेदिक प्रोड्क्टस बनाने वाली कंपनी के सामने हंगामा किया। महिला का आरोप था कि 20 हजार सेनिटाइजर के ऑर्डर दिए। जिसमें दो हजार ही मिले। उनकी भी क्वालिटी खराब थी। जब उसने फैक्टरी संचालक से पैसे वापस मांगे तो उसने पहले साथ घूमने चलने का ऑफर दिया। महिला ने 21 अप्रैल को पंजोखरा थाने में शिकायत दी थी लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। बुधवार को मामला एसडीएम तक पहुंचा तब ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान महिला फैक्ट्री के बाहर जमीन पर बैठकर जोर-जोर से रोने लगी।
उसका कहना था कि लॉकडाउन के दौरान ही उसने हैंड सेनिटाइजर की डीलिंग इस फैक्टरी संचालक से शुरू की थी। 20 हजार सेनिटाइजर का ऑर्डर दिया था जिसमें से 2 हजार हैंड सेनिटाइजर ही उसने मिले। जबकि वह एडवांस में मोटी रकम फैक्टरी मालिक को दे चुकी है। जब उसे डिलिवरी नहीं मिली तो उसने कई बार फैक्टरी मालिक से संपर्क किया। एक दिन मालिक ने उसे घूमने चलने का आॅफर दिया। महिला ने 21 अप्रैल को फैक्टरी मालिक के खिलाफ गलत नीयत से मैसेज और आॅफर करने, घटिया सेनिटाइजर देने और पैसे वापस नहीं लौटाने की शिकायत दी थी। पुलिस ने कहा कि मामला कंज्यूमर कोर्ट का बनता है। एसएचओ हरभजन सिंह ने कहा कि मामला आपसी लेनदेन का है।

महिला को 4.38 लाख लौटा दिए

मैं फैक्टरी में नहीं था। महिला ने आकर फैक्टरी में हंगामा किया। महिला की शिकायत पर मॉल चेक कराकर वापस करने की बात कही गई थी लेकिन उसने नहीं मानी। महिला पैसे वापस मांग रही थी। हमने कहा था कि आपने 3.95 लाख का जो माल दिया है उसे बदलकर दे देते हैं। हमने महिला को 4.83 लाख रुपए लौटा दिए हैं और समझौता हो चुका है। मेरे ऊपर मैसेज करने और आॅफर देने के आरोप गलत है। ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने सारा सामान ठीक मिला है।
फैक्टरी संचालक