बॉर्डर पर पंजाब के ठेके बंद रहे फिर भी हरियाणा में भीड़ नहीं

डबवाली. पंजाब सीमा पर स्थित डबवाली और कालांवाली उपमंडल में शहरों सहित सभी शराब ठेके खुल गए हैं इसके बावजूद किसी भी ठेके पर भीड़ देखने को नहीं मिली। पंजाब में भी ठेके बंद होने के बावजूद शराब की लोक डाउन से पहले के आम दिनों से भी कम सेल हुई है। इससे इलाके में लोक डाउन के बावजूद अवैध शराब आसानी से मिलने की आशंका है। वही रोड़ी में कंटेनमेंट जॉन होने से शराब ठेके बंद रखे गए हैं।
शहर के सिरसा रोड पर गांव डबवाली के पास शराब ठेका पर बहुत कम संख्या में ग्राहक पहुंचे वहीं गोल चौक पर भी कमोबेश सुनसान स्थिति है। बाजार के अंदर व चौटाला रोड पर भी शराब ठेका भी सामान्य ग्राहकी में रहा है। शाम को कई ठेकों पर लोग शराब खरीदने पहुंचे लेकिन सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया। इसके बावजूद शराब ठेकेदारों की ओर से काफी कम मात्रा में शराब बिकने का दावा किया गया है बल्कि लोक डाउन के पहले आम दिनों में होने वाली सेल से भी कम शराब बिक्री हुई है। इससे सीमावर्ती इलाके में लोक डाउन के दौरान शराब आसानी से मिलने का सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है। शराब ठेके के कारिंदे भीम सिंह व रमेश ने बताया कि कई दिनों बाद ठेका खुलने पर ज्यादा कस्टमर आने की आशंका थी लेकिन पहले के मुकाबले सामान्य सेल भी कम हो रही है कोई भीड़ की स्थिति नहीं है।

रोड़ी कंटोनमेंट जोन में ठेके बंद

वहीं कालांवाली उपमंडल के पंजाब सीमा पर बसे बड़े गांव रोड़ी में कंटेनमेंट जोन घोषित होने से शराब ठेके नहीं खोले गए। उल्लेखनीय है कि रोटी गांव की मस्जिद में रहने वाले परिवार की एक महिला पिछले माह कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के चलते कंटेंटमेंट जोन घोषित है।