बारिश के बाद दोबारा करनी पड़ रही बिजाई

डबवाली. बेमौसम बारिश के चलते किसानों के लिए चिंता का विषय बना हुआ है बुधवार को बादल छाए रहे और उपमंडल के एरिया में कई जगह मंगलवार देर रात हल्की बूंदा बांदी हुई। पिछले दिनों हुई बेमौसमी बारिश से किसानों द्वारा नरमे की बिजाई प्रभावित हुई है जो किसानों के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। वहीं किसानों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है और दोबारा बिजाई करनी पड़ रही है।
14 एकड़ की हुई थी बजाई : किसान सुखमंदर सिंह निवासी माखा ने बताया कि उन्होंने 6 दिन पहले 14 एकड़ में नरमे की बिजाई की हुई है जो बैमोसमी बारिश से खराब हो गई और नरमा करंड हो गया है। उन्होंने बताया कि अब उन्हें मजदूर लगाकर नरमा की करंड तुडबा रहे हैं जबकि उन्हें चिंता है कि नरमा बाहाल नहीं होगा उन्हें दोबारा बजाई करनी पड़ सकती है। एक और जहां बिजाई लेट होगी दूसरी ओर किसानों का खर्च दुगना हो रहा है जिसके चलते किसानों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है।
किसान मिट्ठू कंबोज व सुरेश पुनिया ने बताया कि कुदरती मार के चलते उन्हें हर बार नुकसान झेलना पड़ रहा है। सरकार की गलत नीतियों के कारण सरकार की ओर से किसानों को कोई सहयोग नहीं किया जा रहा जिसके चलते किसान दिनों दिन गरीब हो रहे हैं और आत्महत्या करने पर मजबूर हो रहे हैं। वहीं बेमौसमी बारिश के चलते किसानों की गेहूं की फसल मंडियों में खुले आसमान के नीचे पड़ी हुई है जो भीगने से खराब हो रही है। उन्होंने बताया कि प्रशासन की ओर से कोई सुविधा मुहैया नहीं करवाई जा रही।