डबवाली के बाजार में छूट मिलते ही दिखी भीड़, सोशल डिस्टेंस कायम करने में दुकानदार व लोग लापरवाह

  • अधिकारियों और कर्मचारियों की नहीं सुन रहे, चालान काटने का भी असर कम

डबवाली. शहर में लोकडाउन थर्ड के दौरान दुकाने खोलने की छूट मिलने पर बाजार में और अधिक भीड़ आ रही है। बाजारों में दुकानदार और प्रशासन भी सोशल डिस्टेंस मेंटेन कराने में लापरवाह बने हुए हैं जबकि पुलिस प्रशासन की ओर से व्यवस्था बनाने की बजाय चालान काटने पर अधिक ध्यान दिया जा रहा है। इसके अलावा शराब ठेके खुल जाने से भी नशा करने वाले लोगों का आवागमन बढ़ गया है।
बुधवार को बाजार में अधिकतर दुकानंे खुलने से ग्राहकों की भीड़ की स्थिति रही। बाजार में हैवी वाहनों का आवागमन भी ज्यादा देखने को मिला और करियाना स्टोर में मेडिकल के अलावा बैंकों के बाहर भी लोग लाइनों में लगे रहे। इसके अलावा अधिकतर दुकानों और प्रतिष्ठानों पर सोशल डिस्टेंस मेंटेन किए बिना ही ग्राहक और दुकानदार लेन-देन करते रहे। दुकानदारों की ओर से बिना मास्क पहने ग्राहकों को भी सामान दिया गया। कई ग्राहक जरूरत से अधिक सामान अपने वाहनों पर लोड कर ले जाते रहे। पुलिस प्रशासन की ओर से बाजार में व्यवस्था बनाने की बजाए चालान काटने में अधिक स्टाफ लगाए जाने से उम्मीद के अनुसार सुधार नहीं हो रहा है। इस बारे में शहर थाना प्रभारी सत्यवान शर्मा ने बताया कि पुलिस की ओर से लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है और उचित कार्रवाई भी की जा रही है लेकिन अधिकतर लोग खुद ही लापरवाही बरत रहे हैं जिससे ऐसी स्थिति बनी हुई है।

पंजाब सीमा पर भी नहीं जागरूकता

उल्लेखनीय है कि शहर के साथ पंजाब सीमा में बसे दशमेश नगर में रहने वाले पुलिसकर्मी को रोना पॉजिटिव पाए जाने पर खतरे की स्थिति बनी हुई है। ऐसे में दशमेश नगर से शहर के बाजार और दुकानों में आने वाले व्यापारी कर्मचारी और ग्राहक को की मूवमेंट से लोगों में अधिक जागरूकता की जरूरत है लेकिन प्रशासन और आमजन इसके प्रति जागरूकता नहीं भरते रहे हैं। इससे लोगों में नाराजगी और भय बढ़ता जा रहा है।