लॉकडाउन में ढील, सड़कों पर उमड़ी भीड़ सोशल डिस्टेंस की उड़ाई धज्जियां, करानी पड़ी मुनियादी

  • कस्बों में भीड़ देख प्रशासन के भी फूले हाथ पांव, एसडीएम ने व्यापारियों से की मीटिंग, तय शेड्यूल से ही खोलें दुकानें

पिहोवा. लॉकडाउन में ढील मिलते ही जिलेभर के बाजारों में अचानक भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गई। दुकानदारों ने भी सरकार द्वारा जारी नियमों की जमकर अनदेखी की जिसे देख प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। बाद में पुलिस ने पीसीआर से मुनादी करके दुकानदारों और भीड़ को सचेत किया तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आई। रविवार रात को ऑरेंज जोन में ढील को लेकर प्रशासन द्वारा नए नियम जारी किए गए थे। सुबह सभी दुकानदारों ने अपनी दुकानें खोल ली।
सड़कों पर वाहनों की रही भीड़

बाजार खुलते ही लोग भी घरों से बाहर निकल पड़े। कई लोग तो ऐसे भी थे, जिन्हें कोई काम नहीं था, फिर भी सड़कों पर कारें व बाइक लेकर घूमते दिखे। कोई भी ऐसी दुकान नहीं देखी जिस पर ताला लगा हो। प्रशासन द्वारा नियम जारी किए गए थे कि किसी भी दुकान पर पांच से ज्यादा व्यक्ति एक साथ नहीं होंगे। दुकानदारों को दुकान में ग्राहक के प्रवेश से पहले उसके हाथ सेनिटाइज कराने आवश्यक होंगे। साथ ही मास्क भी पहनना होगा लेकिन बावजूद इसके, न तो अधिकतर लोगों के चेहरे पर मास्क नजर आया और न ही किसी दुकान के बाहर सेनिटाइजर रखा दिखा। हालांकि आज से प्रशासन नियमों में बदलाव की बात कहकर दो दो दिन के गैप के बाद दुकानें खोलने की नीति तैयार कर रहा है। लेकिन यदि इसी तरह से सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन होता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब ये महामारी यहां आसानी से पहुंच सकती है।
{निर्धारित शेड्यूल के अनुसार ही खोल सकेंगे दुकानें: सोनू राम | वहीं एसडीएम सोनूराम ने कहा कि पिहोवा उपमंडल में अब निर्धारित शेड्यूल के अनुसार ही दुकानें खुलेंगी। इसके लिए शेड्यूल जारी कर दिया गया है। दुकानों पर सोशल डिस्टेंस के नियमों की पालना करना भी जरूरी होगा। वर्कर व दुकानदार मास्क और ग्लब्ज पहनकर दुकान पर काम करेंगे। कोई भी दुकानदार नियमों की अवहेलना करेगा तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई भी होगी।
व्यापारियों के साथ की मीटिंग

सोमवार को किसान रेस्ट हाउस में पिहोवा की दुकानों के प्रतिनिधियों की बैठक को सं‍बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार ऑरेंज जोन के तहत पिहोवा में निर्धारित शेड्यूल के अनुसार प्रात: 9 से सायं 5 बजे तक सभी प्रकार की दुकानें खोली जाएंगी। इस उपमंडल के लिए भी दुकानों को खोलने का रोस्टर तैयार किया है, इस रोस्टर के अनुसार सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को जनरल स्टोर, जूते की, कपड़े, फर्नीचर, आॅटोमोबाइल, साइकिल रिपेयर व सैलून आदि की दुकानें खोली जाएंगी। इसके अतिरिक्त मंगलवार, वीरवार व शनिवार को मोबाइल, चश्मा, आयरन स्टोर, टाइलें, सीमेंट, बिल्डिंग मेटीरियल की दुकानें खुलेंगी

उन्होंने कहा कि सब्जी, फल, दूध, पेस्टिसाइड और मेडिकल स्टोर प्रत्येक दिन खुले रहेंगे। दवाइयों, दूध, डेयरी की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें रविवार को बंद रहेंगी। उन्होंने कहा कि यदि कोई दुकानदार तय रेट से अधिक दाम मे कुछ बेचता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। इसके साथ-साथ पेट्रोल पंप सुबह 7 से रात्रि 7 बजे तक पूरे सप्ताह खुल सकेंगे।
उपमंडल अधिकारी ने कहा कि होटल व प्रतिष्ठान में 5 व्यक्तियों से ज्यादा लोग बैठ कर नहीं खा सकेंगे। उन्होंने दुकानदारों से कहा कि वे दुकानों में सेनिटाइजर व मास्क का प्रयोग करें। वहां खरीदारी करने वालों को भी मास्क व सेनिटाइजर का प्रयोग करने बारे कहें। दुकानों में पांच से अधिक लोगों की भीड़ पाए जाने पर दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि किसी भी दुकान के सामने पार्किंग नहीं की जाएगी। दुकानों के अंदर लोगों की भीड़ जमा नहीं होगी और सभी को सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करना अनिवार्य है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि दुकानें खुलने के साथ-साथ सभी लोग सफाई व्यवस्था का खास ध्यान रखें। कहीं पर भी गंदगी फेंकने या थूकने वाले के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सायं 7 से प्रात: 7 बजे तक कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकलेगा, अगर कोई व्यक्ति इस दौरान बाहर घूमता पाया गया तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
ऑरेंज जोन में है पिहोवा

डीएसपी धीरज कुमार ने कहा कि कोविड-19 की गाइडलाइंस के अनुसार पिहोवा ऑरेंज जोन में शामिल किया गया है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते हुए हमें इसे ग्रीन जोन तक पहुंचाना है। इस कार्य में प्रत्येक व्यक्ति का सहयोग जरूरी है। उन्होंने कहा कि 65 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं तथा 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे भी घर पर रहें। केवल मेडिकल इमरजेंसी के लिए ही वे घर से बाहर जा सकते हैं। इस मौके पर बीडीपीओ पिहोवा व इस्माईलाबाद, तहसीलदार चेतना चौधरी, नगरपालिका सचिव पिहोवा सहित दुकानों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।