न सोशल डिस्टेंसिंग दिखी, न मास्क-सैनिटाइजर एसडीएम व डीएसपी ने बंद करवाईं कई दुकानें

  • दोपहर दो बजे दुकानें बंद होते ही नगर परिषद के कर्मचारियों ने किया पूरे बाजार को सैनिटाइज

भिवानी. लॉकडाउन थ्री के दूसरे दिन मंगलवार को भी बाजारों व बैंकों के बाहर भीड़ रही और लोग सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते दिखाई दिए। कुछ लोग मुंह पर बिना मास्क के भी दिखाई दिए। दोपहर को एसडीएम व डीएसपी ने टीम के साथ बाजारों का निरीक्षण किया और जिस दुकान में सैनिटाइजर नहीं था और दुकानदार बिना मास्क के मिला उसकी दुकान बंद करवा दी। इस दौरान एसडीएम ने सड़कों पर जो व्यक्ति बिना मास्क के दिखाई दिया उन्हें मास्क भी दिए। मंगलवार को भी नप ने दोपहर दो बजे दुकानें बंद होने पर बाजार सैनिटाइज किया। दूसरी ओर आबकारी विभाग के डीईटीसी ने अनिल यादव ने बताया कि सुबह 7 से शाम 7 बजे तक शराब के ठेके भी खुल सकेंगे।
लॉकडाउन 3 में मिली छूट का लाभ उठाना है ताे सभी को विशेषकर दुकानदारों व ग्राहकों को सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क लगाने समेत सरकार की गाइडलाइन का पालना करना होगा। समृद्धि व स्वास्थ्य के लिए सभी के लिए नियम व शर्तों की पालना करना बेहद जरूरी है। अगर लोग ऐसे ही सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते रहे तो कोरोना को फैलने से रोकना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए सभी को सरकार व प्रशासन का सहयोग कर महामारी को फैलने से रोकना होगा।

न दुकानों के बाहर, न अंदर थी सोशल डिस्टेंसिग की व्यवस्था

मंगलवार को सुबह 8 बजे शहर के सभी बाजार खुले, लेकिन अधिकतर दुकानदार प्रशासन के नियमों की पालना करते दिखाई नहीं दिए। बाजारों में अधिकतर दुकानदारों ने अपनी दुकानों के बाहर गोल दायरे तक नहीं बना रखे थे और न ही दुकान के अंदर ग्राहकों के खड़े रहने या बैठने की सोशल डिस्टेंसिंग के हिसाब से व्यवस्था कर रखी थी। कुछ दुकानदार व ग्राहक भी दुकानों में बिना मास्क के दिखाई दे रहे थे। हालांकि कुछ दुकानदार दुकान में आने वाले ग्राहकों के हाथ सैनिटाइजर से साफ करवाकर ही अंदर प्रवेश करवाया जा रहा था। पुलिस, होम गार्ड व स्काउट गाइड बाजारों में लोगों से नियमों का पालन करने को कहते नजर आए।

एसडीएम और डीएसपी ने दी दुकानदारों को चेतावनी

दाेपहर लगभग एक बजे एसडीएम महेश कुमार व डीएसपी विरेंद्र सिंह टीम के साथ हांसी गेट पर पहुंचे। हांसी गेट से घंटा तक सभी दुकानों के अंदर पहुंचकर दोनों अधिकारियों ने जांच की। जिस दुकान में सैनिटाइजर नहीं मिला और जो दुकानदार बिना मास्क के मिला ऐसी दुकानों को बंद करवा दिया और चेतावनी दी कि नियमों की पालना करें। जिस दुकानदार ने दुकान के बाहर फुटपाथ पर सामान रखा हुआ था उसे दुकान के अंदर सामान रखने की चेतावनी दी। उन्होंने घंटाघर से सराय चौपटा, बिचला बाजार, जैन चौक क्षेत्र में भी दुकानदारों को चेतावनी दी। हांसी गेट व घंटाघर क्षेत्र में 6 दुकानें बंद करवाईं।

लगभग सभी बाजारों में लोगों ने किया लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन, आज से शराब के ठेके भी खुलेंगे
1. घंटाघर से सराय चौपटा तक : सुबह 8 बजे दुकानें खुलते ही बाजारों में ग्राहकों आना शुरू हो गए। नौ बजे तक स्थिति सामान्य रही। दस बजे दुकानों के बाहर भीड़ दिखाई देने लगी। लोग सोशल डिस्टेंंसिंग की परवाह किए बिना ही एक दूसरे के साथ लगकर सामान खरीद रहे थे। पुलिस ने गश्त के दौरान दुकानों के बाहर खड़े लोगों को सोशल डिस्टेंस में खड़ा किया और दुकानदार को चेतावनी दी कि अगर दुकान खोलनी है तो नियमों का पालन करवाए।

2. सराय चौपटा से बिचला बाजार में : सराय चौपटा से बिचला बाजार क्षेत्र में भी छूट के दूसरे दिन भीड़ रही। यहां कपड़े की दुकानों में भीड़ दिखाई दी। कई दुकानों में 7 से 8 ग्राहक एक ही समय में कपड़ा खरीदते दिखे, जबकि नियमानुसार एक बार में दुकान में मालिक समेत पांच लोग हो सकते हैं। इस क्षेत्र में कुछ दुकानों में दुकानदार ग्राहकों के हाथ सैनिटाइज से साफ करवाकर ही प्रवेश देते भी दिखे।
3. कपड़ा मार्केट व बर्तन बाजार में : कपड़ा मार्केट में कुछ नामचीन साड़ी भंडारों पर ही महिला ग्राहक दिखाई दी। अधिकतर दुकानों में सोशल डिस्टेंस की पालना नहीं हो रही थी। बर्तन बाजार में स्थिति सामान्य दिखाई दी और लोगों की भीड़ भी नहीं थी।

4. नया बजार में : नया बाजार स्थित दुकानों पर सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक भीड़ दिखाई दी। विशेषकर कूलर व पंखों की दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ रही। यहां भी सोशल डिस्टेंसिग, मास्क व सैनिटाइजर की व्यवस्था का उल्लंघन होता दिखाई दिया। दुकानों के अंदर ही सोशल डिस्टेंसिंग की पालना पूरी तरह से फेल बनी हुई थी।
5. बैंकों के बाहर : मंगलवार को भी साेमवार की तरफ बैंक शाखाओं के बाहर उपभोक्ताओं की भीड़ लगी रही। विशेषकर घंटाघर स्थित एसबीआई व अन्य बैंक शाखाओं के बाहर पुरुष व महिलाओं की अलग अलग लाइन लगवाई गई थी लेकिन यहां लाइनों में खड़े उपभोक्ता सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं कर रहे थे।

बाजारों में भीड़ पर स्वास्थ्य विभाग ने जताई चिंता

सिविल सर्जन डॉ. जितेन्द्र कादयान ने बताया कि मंगलवार को विभाग ने 39 लोगांे के सैंपल लिए हैं, इनमें से छह सैंपल जांच के लिए रोहतक पीजीआई भेजे। 33 सैंपल की रैपिड किट से जांच की गई, जिनमें से सभी निगेटिव रिपोर्ट मिली है। सामान्य अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 4 लोगों को रखा गया है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन 3 में छूट मिलने पर खुले बाजारों में जो भीड़ दिखाई दी, वह कोरोना को रोकने के लिए सही संकेत नहीं हैं।