18 साल पुरानी साढ़े आठ हजार में खरीदी बाइक का 13 हजार का कटा चालान

  • घाट पर ससुर की अस्थियां विसर्जित कर लौट रहा था बाइक सवार
  • साथ ही पुलिस बाइक की इंपाउंड, दोनों सवार पैदल घर गए

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 07:08 AM IST

यमुनानगर. रादौर से यमुनानदी के गुमथला घाट पर ससुर की अस्थियां विसर्जित करने पहुंचे एक व्यक्ति का पुलिस ने शहर में 13 हजार रुपए का चालान काट दिया। प्रभावित व्यक्ति ने ससुर की अस्थियां विसर्जित करने की भी दुुहाई दी, लेकिन पुलिस ने उसकी एक बात नहीं सुनी। यहां तक कि हजारों रुपए जुर्माना करने के बाद पुलिस ने उसकी बाइक को इंपाउंड भी कर दिया। इसके बाद बाइक से यमुनानदी पर जा रहे दोनों लोग निराश होकर पैदल ही लौट गए।
गांव खुर्दबन निवासी मोहनपाल धीमान ने बताया कि उसकी ससुराल रादौर के अनाज मंडी रोड पर स्थित सैनी मोहल्ला में है। उसके ससुर सुभाष धीमान का निधन हो गया था। लॉकडाउन के कारण वह अपने ससुर की अस्थियां हरिद्वार नहीं ले जा पाए। जिसके बाद उन्होंने फैसला लिया कि अस्थियों को यमुनानदी में ही विसर्जित कर दिया जाए। इसके बाद वह अपने एक रिश्तेदार के साथ बाइक पर यमुनानदी के गुमथला घाट पर अपने ससुर की अस्थियां लेकर चला गया। ससुर की अस्थियां विसर्जित कर जब वह अपने रिश्तेदार के साथ वापस रादौर लौट रहा था तो शहर के रावल चौक पर पुलिस ने उसकी बाइक का 13 हजार का चालान कर दिया। पुलिस को ससुर की मौत होने का भी हवाला दिया, लेकिन पुलिस ने एक नहीं सुनी। मोहनपाल ने बताया कि वह गुमथला में कारपेंटर का काम करता है। उसने एक वर्ष पहले 8500 रुपए में 2001 मॉडल स्पलेंडर बाइक खरीदी थी। लेेकिन अब उसका 13 हजार का चालान हो गया।