15 लाख क्विंटल गेहूं भीगा, 650 पोल गिरने से 65 गांवों की बिजली गुल

  • लगातार दूसरे दिन बरसात से मंडियों के अलावा शहर में भी पानी निकासी की दिक्कत रही, कई निचले इलाकों में घंटों पानी भरा रहा

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 06:39 AM IST

डबवाली. जिला में शनिवार देर शाम और रविवार को आए तेज अंधड़ और बरसात के कारण भारी नुकसान हो गया है। सबसे अधिक इलाका जो प्रभावित हुआ वो ऐलनाबाद क्षेत्र था। यहां 650 से अधिक बिजली के पोल और ट्रांसफार्मर गिर गए। बिजली की पूरी लाइनें गिर गई। मंडियों में पड़ी करीब 15 लाख क्विंटल गेहूं भीग गया।
ऐलनाबाद व माधोसिंघाना क्षेत्र के 65 गांव की बिजली सप्लाई ठप हो गई। 24 घंटे बाद भी बिजली बहाल नहीं हो पाई थी। बिजली निगम 24 घंटों में लाइनें दुरुस्त करने के लिए जुटा था कि रविवार शाम को फिर से आंधी ने पूरा खेल बिगाड़ दिया।

शहर के निचले इलाकों में तीन फुट तक जलभराव

रविवार देर शाम अंधड़ के साथ आई बरसात के कारण जलभराव हो गया। निचले इलाको में 2 से 3 फुट पानी भर गया। जिससे राहगीरों को परेशानी हुई। हालांकि पब्लिक हेल्थ विभाग की टीमें सीवरेज खोलने में जुट गई थी। वहीँ अंधड़ के कारण बिजली गुल हो गई। शहर में करीब 4 घण्टे ब्लेक आउट जैसी स्थिति रही। रात को करीब 10 बजे जाकर कई इलाकों की बिजली बहाल हो सकी।

दूसरे दिन अंधड़ के साथ आई 16 एमएम बरसात

जिला में रविवार शाम को अचानक दोबारा मौसम बदला। पहले तेज आंधी आई। उसके बाद बरसात शुरू हो गई। तेज बरसात और आंधी से बिजली गुल हो गई। सिरसा में हुई 16 एमएम बरसात से मंडियों में पड़ा 15 लाख क्विंटल गेहूं भी भीग गया। गेहूं से भरे बैगों के नीचे पानी घुस गया । प्रशासन के पुख्ता प्रबंध के दावे बरसात में फेल नजर आए।

बिजली लाइनों को जल्द कर लिया जाएगा दुरुस्त

आंधी- तूफान से जिलाभर में बिजली के 600 पोल गिरे हैं, जिसमें सबसे ज्यादा 400 के आसापास पोल ऐलनाबाद क्षेत्र में उखड़े हैं। विभागीय टीमें लगातार बिजली लाइनों को दुरुस्त करने में जुटी हैं। जल्द काम सिरे चढ़ा लिया जाएगा। '' -गुलशन वधवा, एक्सईएन, बिजली निगम सिरसा।

जिले की मंडियों में गेहूं की अवाक तेज पर उठान धीमा

जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक नीरज शर्मा ने बताया कि मंडियों व खरीद केंद्रों पर सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखते हुए फसल खरीद की जा रही है। उन्होंने बताया कि दो मई तक जिला की अनाज मंडियों चार लाख 34 हजार 564 मीट्रिक टन गेहूं की आवक हो चुकी है। फसल का उठान कार्य भी साथ की साथ किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला की विभिन्न मंडियों व खरीद केंद्रों में दो मई तक चार लाख 34 हजार 564 मीट्रिक टन गेहूं की आवक हो चुकी पर उठान धीमा है।

गैराज की दीवार ढहने से 11 वर्षीय बालक की मौत

ऐलनाबाद| तूफान ने क्षेत्र में भारी कहर बरपाया तथा क्षेत्र में शनिवार को आए भयंकर अंधड़ व बारिश से लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। मिठनपुरा में गैराज की दीवर गिरने से जहां एक 11 वर्षीय बालक की मौत हो गई वहीं 3 लोग घायल हो गए। प्रकृति का यह तांडव रविवार को भी जारी रहा और बाद दोपहर 4 बजे फिर शहर में आंधी के साथ बारिश हुई। अंधड़ के चलते हनुमानगढ़ रोड पर रणजीत पेड़ की टहनी गिरने से घायल हो गया।

ओढां में भी बारिश के कारण मंडियों में पड़ा गेहूं भीगा

क्षेत्र में रविवार की शाम को करीब 5:00 बजे जबरदस्त आंधी और बरसात के कारण अनेक पेड़ गिरने से रास्ते अवरुद्ध हो गए और अनाज मंडी में गेहूं का उठान न होने के कारण खुले में पड़ी सैकड़ों क्विंटल गेहूं भीग गई । क्षेत्र में अनेक मंडियों में बनाए गए खरीद केंद्रों पर शेड की व्यवस्था ना होने के कारण गेहूं की बोरियां व खुली ढेरिया भीग गई ।