हाइवे से पानी निकासी के लिए हो रहे निर्माण में घटिया सामग्री का अाराेप, ग्रामीणों ने की जांच की मांग

  • रेत की जगह सीमेंट में मिट्‌टी मिलाकर हो रहा निर्माण कार्य

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 07:10 AM IST

यमुनानगर. कैल से कलानौर तक बनाए बाइपास हाइवे पर जैसे ही ट्रैफिक शुरू हुआ था तो एसके हाइवे से लगता रोड टूटना शुरू हो गया था। क्योंकि यहां पर पानी निकासी का इंतजाम नहीं था। अब यहां पर पानी निकासी का इंतजाम किया जा रहा है। यह काम एनएचएआई की आेर से कराया जा रहा है। इस निर्माण में इस्तेमाल हो रही सामग्री को लेकर ग्रामीणों ने सवाल उठाए हैं।
 आरोप है कि रेत की बजाए सीमेंट में मिट्टी प्रयोग की जा रही है, जोकि गलत है। इससे यह निर्माण जल्द ही ढह जाएगा। लोगों ने इसकी जांच की मांग की है। गांव रोड छप्पर निवासी मंदीप सिंह, गुरदेव सिंह और तेजबीर सिंह ने बताया कि एसके रोड से लगते बाइपास हाइवे की हालत बेहद खराब है। यहां पर बारिश होते ही पानी जमा हो जाता है। पानी निकासी का इंतजाम नहीं है। इससे यहां पर पूरा रोड टूट चुका है। एनएचएआई की ओर से पानी निकासी के लिए यहां पर बोर किया जा रहा है। इसके लिए जो निर्माण किया जा रहा है उसमें रेत मिक्स नहीं किया जा रहा, रेत की बजाए मिट्टी में सीमेंट मिलाया जा रहा है। जोकि भ्रष्टाचार की तरफ इशारा करता है। उनका कहना है कि सीमेंट को रेत में ही यूज किया जा सकता है, मिट्टी में उसे यूज नहीं किया जा सकता। इस निर्माण कार्य की जांच होनी चाहिए। ऐसा करने वालों पर कार्रवाई की उन्होंने मांग की है।