कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए 42 लोगों की सैंपल रिपोर्ट निगेटिव, नहीं चलेगी शुगर मिल

  • कोरोना पॉजिटिव मिले केमिस्ट का साला और भतीजा भी आदेश में क्वारेंटाइन

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 06:07 AM IST

कुरुक्षेत्र. शाहाबाद शुगर मिल कॉलोनी में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद से ही शाहाबाद व जिले में हलचल मची है। पूरा प्रशासनिक व स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट है। रविवार को छट्ठी के दिन भी पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीमें कॉलोनी में ही डटी रही। वहीं रविवार को राहत की खबर मिली। कोरोना पॉजिटिव में आए लोगों के सैंपल जांच में निगेटिव मिले। पहले शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव मिले केमिस्ट के प्राइमरी संपर्क में आए 15 लोगों के सैंपल भरे गए थे। इसके बाद शनिवार को सेकेंडरी संपर्क में आए 42 और लोगों के सैंपल लिए गए थे। इन सभी की रिपोर्ट रविवार को निगेटिव मिली। इसके बाद प्रशासन को भी कुछ राहत मिली।
डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग, आठ टीमें लगी : रविवार को भी डोर-टू-डोर आठ टीमें शुगर मिल में स्क्रीनिंग में लगी रही। एसएमओ डॉ. रुपिन्द्र सैनी ने बताया कि घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है। अगर इस दौरान किसी को बुखार, जुकाम किसी तरह की भी शिकायत है तो उस व्यक्ति का वहीं पर टेस्ट किया जाएगा। कॉलोनी को सील किया है। स्वास्थ्य विभाग ने मिल में काम करने वाले सभी कर्मचारियों की स्क्रीनिंग भी की। लोगों में भी डर का माहौल है। पुलिस प्रशासन ने शुगर मिल कॉलोनी को कंटेनमेंट व आसपास के इलाके को बफरजोन बना कर आवागमन बंद कर दिया। वहीं पुलिस ने भी अब सख्ती बढ़ाई है।
कर्मी क्वॉरेंटाइन: शुक्रवार को फैसला लिया था कि मिल तीन दिन बंद रहेगी, लेकिन तीन दिन बाद भी मिल शुरू होने की कोई घोषणा नहीं हुई। क्षेत्र में करीब सात लाख क्विंटल गन्ना बाकी है। इधर प्रशासन ने मिल के सभी कर्मचारियों को अब होम क्वॉरेंटाइन करना शुरू किया है।

भादसों व यमुनानगर में डाइवर्ट होगा क्षेत्र का पूरा गन्ना
एमडी सुशील कुमार के मुताबिक मिल क्षेत्र में बाकी 6 से सात लाख क्विंटल गन्ना यमुनानगर व भादसों चीनी मिलों को डाइवर्ट करने निर्णय लिया है। इसमें से तीन लाख क्विंटल गन्ना यमुनानगर तथा तीन लाख क्विंटल गन्ना भादसों चीनी मिलों में जाएगा।
परिवार की निगेटिव रिपोर्ट साला व भतीजा क्वॉरेंटाइन : मिल केमिस्ट के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उसके परिवार का भी सैंपल लेकर भेजा गया। यह जांच में निगेटिव मिला। केमिस्ट को उसका साला और भतीजा ही तबीयत खराब होने पर पीजीआई ले गए थे। लिहाजा उन्हें एहतियात के तौर पर पहले पीजीआई में भर्ती किया था। वहां से अब उन्हें आदेश अस्पताल में भर्ती किया गया है। उनके सैंपल भेजे गए हैं। जिनकी रिपोर्ट सोमवार को मिलेगी।