आईएएस रानी नागर ने दिया इस्तीफा, पिछले दिनों जान को बताया था खतरा, व्यक्तिगत सुरक्षा बताई इस्तीफे की वजह

  • आईएएस 2014 बैच हरियाणा कैडर की अधिकारी हैं रानी नागर
  • फेसबुक और ट्वीटर पर इस्तीफे की पोस्ट डालकर दी सूचना

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 03:11 PM IST

पानीपत/चंडीगढ़. पिछले काफी समय से विवादों में रही 2014 बैच की आईएएस रानी नागर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा को इस्तीफा भेजा है। रानी इस समय सामाजिक सुरक्षा विभाग में अतिरिक्त निदेशक के पद पर तैनात हैं। उन्होंने पिछले दिनों अपनी जान को खतरा बताते हुए एक वीडियो भी जारी किया था। अब इस्तीफा दिया है। उन्होंने नौकरी करते हुए व्यक्तिगत सुरक्षा इस्तीफे की वजह बताई है।

pic.twitter.com/Wunp4ihfy4

— Ias Rani Nagar (@ias_raninagar) May 4, 2020

लॉकडाउन के दौरान वीडियो जारी कर कहा था इस्तीफा दे दूंगी
लॉकडाउन के दौरान रानी नागर ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था और लिखा था कि लॉकडाउन खुलने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दूंगी और अपने गांव जाकर रहूंगी। रानी नागर ने वीडियो में अपनी जान को भी खतरा बताया था।

मैं रानी नागर पुत्री श्री रतन सिंह नागर निवासी ग़ाज़ियाबाद गाँव बादलपुर तहसील दादरी ज़िला गौतमबुद्धनगर आप सभी को सूचित करना चाहती हूँ कि मैंने आज दिनाँक 04 मई 2020 को आई. ए. एस. के पद से इस्तीफ़ा दे दिया है। मैं व मेरी बहन रीमा नागर माननीय सरकार से अनुमति लेकर चंडीगढ से अपने

— Ias Rani Nagar (@ias_raninagar) May 4, 2020

अब लिखा- मैं घर जाकर रहूंगी
रानी नागर ने लिखा है कि 4 मई 2020 को आईएएस के पद से इस्तीफा दे दिया है। मैं व मेरी बहन रीमा नागर सरकार से अनुमति लेकर चंडीगढ से अपने पैतृक शहर गाजियाबाद वापस जा रहे हैं। हम आपके आशीर्वाद व साथ के आभारी रहेंगे।

विवादों से जुड़ा रहा है कैरियर
रानी नागर ने वर्ष 2018 के दौरान एक आईएएस पर भी दुर्व्यवहार का आरोप लगाया था। यह मामला सीएम ऑफिस भी पहुंचा था। नागर ने एक कैब ड्राइवर पर भी अभद्रता का आरोप लगाया था। सिरसा जिला के डबवाली में एसडीएम पद पर रहते हुए उन्होंने अपनी जान को खतरा बताया था।