शाम को आई गाइडलाइन; प्रशासन आज तय करेगा क्या खुलेगा- क्या नहीं?

  • राहत की बात ये…कैंट और शहजादपुर कंटेनमेंट जोन खत्म

अम्बाला. लॉकडाउन-3.0 सोमवार से शुरू हो रहा है। लॉक डाउन के इस तीसरे चरण में सरकार ने कुछ छूट दी हैं। इस संबंध में अम्बाला जिला का प्रशासन दिन भर प्रदेश सरकार की एडवाइजरी का इंतजार करता रहा। देर शाम हरियाणा सरकार के प्रिंसिपल सेक्रेटरी की तरफ से गाइड लाइन तो आई लेकिन प्रशासन ने अभी स्पष्ट नहीं किया है कि अम्बाला में क्या खुल सकेगा और क्या नहीं। नारायणगढ़ एसडीएम ने सोमवार को बाजार एसोसिएशनों के साथ बैठक में प्लानिंग की बात कही जबकि बराड़ा एसडीएम ने सोमवार को ही कोई निर्णय लेने की बात कही।
वैसे बता दें कि अम्बाला ऑरेंज जोन में हैं। केंद्र सरकार ने कोरोना रिस्क फेक्टर के हिसाब से रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन बनाए हैं। ऑरेंज जोन में कुछ शर्तों के साथ छूट का प्रावधान है। राहत की बात ये है कि अम्बाला कैंट की टिंबर मार्केट में कोरोना केस मिलने के वजह से बनाया गया कंटेनमेंट जोन शनिवार से खत्म हो चुका है। वहीं शहजादपुर कंटेनमेंट जोन भी सोमवार से खत्म हो जाएगा। कैंट के ज्यादातर बाजार कंटेनमेंट जोन में पड़ रहे थे। अब सिटी का रतनगढ़ और ठरवा के आसपास के गांव कंटेनमेंट जोन में बचे हैं। रतनगढ़ कंटेनमेंट जोन में मानव चौक एरिया के बाजार पड़ते हैं। ठरवा ग्रामीण इलाका है। ऐसे में प्रशासन तय करेगा कि रतनगढ़ कंटेनमेंट जोन के आसपास के बाजारों को कितनी रियायत दी जाए।

फिलहाल कोई आदेश नहीं है। कल दुकानदारों की एसोसिएशनों से बात करके प्लानिंग की जाएगी। खुलेगा जरूर लेकिन समय लगेगा – अदिति एसडीएम, नारायणगढ़

देर शाम गाइडलाइन आई है। अभी मोबाइल पर इसे डिटेल से नहीं पढ़ पाए। सोमवार सुबह इसे पढ़कर एडवाइजरी जारी कर दी जाएगी। – गिरीश कुमार, एसडीएम, बराड़ा

अम्बाला ऑरेंज जोन में…जिसमें ये रियायतें संभव
4 से 10 मई तक

  • इंडस्ट्रियल एरिया, ग्रामीण एरिया और नगर निगम या शहरी एरिया में आईटी से जुड़ी यूनिट 50 फीसदी और जनरल इंडस्ट्री 75 फीसदी स्टाफ के साथ चल सकती है।
  • ई-कॉमर्स 50 फीसदी स्टाफ के साथ चल सकती है।

11 से 17 मई तक

  • आईटी इंडस्ट्री 75 और जनरल इंडस्ट्री 100 फीसदी स्टाफ के साथ।
  • ई-कॉमर्स 75 फीसदी स्टाफ के साथ।

इन पर काफी कुछ निर्भर करेगा-

  • इंडस्ट्रियल यूनिट चलाने से पहले सभी को सरल हरियाणा पोर्टल पर आवेदन करना होगा।
  • रिस्क जोन बदलने पर छूट में बदलाव हो सकता है।
  • जिला प्रशासन धरातल (मौके के हालात) की स्थितियों के हिसाब से निर्णय लेगा।

अगर मार्केट खुली तो ये नियम लागू होंगे

हरियाणा सरकार के अर्बन लोकल बॉडीज के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ने प्रदेश की सभी नगर निगम, नगर परिषद तथा कमेटी को मार्केट खुलने के लिए दिशा निर्देश भेजे हैं।
नगर निगम एरिया में यह करना पड़ेगा दुकानदारों और कस्टमर को

  • मार्केट एरिया में दो गज की दूरी (सोशल डिस्टेंस) का सख्ती से पालन करना होगा।
  • दुकानदारों और कस्टमर को ग्लब्स और मास्क पहनना जरूरी होगा।
  • एसी शॉप्स के बाहर खड़े गार्ड को थर्मल स्कैनर और सिटीजर उपलब्ध कराना होगा। दुकानदार व सेल्समैन को कस्टमर को अटेंड करते समय मास्क पहनना अनिवार्य होगा। एक समय में 5 से अधिक कस्टमर दुकान में दाखिल नहीं हो सकते।
  • दुकान के बाहर 6 फुट के डिस्टेंसिंग गोले बनाने होंगे। कस्टमर को क्यू में गोलों में खड़ा होना होगा।
  • मार्केट में प्रवेश और निकासी के स्थान पर बैरिकेड्स लगाने होंगे।
  • मार्केट में दुकानों के बाहर कोई व्हीकल खड़ा नहीं होगा। कस्टमर को अपने वाहन पार्किंग में लगाकर पैदल ही मार्केट में आना होगा।
  • गर्भवती महिला, 65 साल से ज्यादा बुजुर्ग तथा 10 साल से छोटे बच्चे का मार्केट में प्रवेश निषेध है।
  • मार्केट में भीड़ से बचाने के लिए परिवार का एक ही सदस्य मार्केट में आएगा।
  • कार्पोरेशन का स्टाफ मार्केट को साफ सुथरा तथा सेनिटाइज करेगा। दोपहर को इंटरवल के समय मार्केट की सफाई की जाएगी।
  • दुकानदार और स्ट्रीट वेंडर्स को आरोग्य सेतु मोबाइल एप को डाउनलोडिंग करने के लिए पब्लिक नोटिस लगाना होगा तथा इसे इंस्टाल करने के लिए मोटिवेट करना होगा।