बेटे ने लोहे के पाइप से सिर पर वार कर मां-बाप को मार डाला, शवों को ट्रैक्टर के पालने में डालकर गांव से 3 किमी. दूर फेंका

  • रोहतक के गांव पाकस्मा में वारदात, बाप-बेटे में शनिवार दोपहर पैसे के लेन-देन को लेकर हुआ था झगड़ा

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 05:00 AM IST

रोहत. गांव पाकस्मा में शनिवार की रात को 54 वर्षीय ब्रह्मजीत और 50 वर्षीय सुमित्रा की लोहे की पाइप से वार कर हत्या कर दी है। हत्या का आरोप ब्रह्मजीत के बेटे पवन पर है। बाप बेटे के बीच शनिवार दोपहर को अनाज मंडी में पैसे के लेन-देन को लेकर झगड़ा हुआ था। आरोप है कि पवन उर्फ बोदा ने रात करीब एक बजे घर पर सो रहे अपने मां-बाप पर लोहे की पाइप से वार कर हत्या कर दी। हत्या के बाद दोनों के शवों को ट्रैक्टर के पालने में डालकर घर से तीन किलोमीटर कर झाड़ियों में फेंक आया। सुबह परिजनों को खुद ही घटना के बारे में जानकारी दी। परिजन और पुलिस मौके पर पहुंचे तो दोनों के शव खून से लथपथ हालात में पड़े मिले। थाना सांपला पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है।

पुलिस को मृतक के साले राममेहर ने शिकायत दर्ज कराई है। हुमायूंपुर निवासी राममेहर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी बहन सुमित्रा की शादी गांव पाकस्मा के ब्रह्मजोत के साथ हुई थी। ब्रह्मजीत फौज से रिटायर्ड है। उसकी बहन सुमित्रा के दो बच्चे है। दीपक और पवन उर्फ बौदा है। दीपक इंडियन नेवी में तैनात है। पवन अविवाहित है और घर पर ही रहता है। अपने पिता के साथ मिलकर खेती बाड़ी का काम करता है।
अनाज मंडी में लोगों ने बीच बचाव कर झगड़ा रोका था
राममेहर का आरोप है कि शनिवार को पवन उर्फ बोदा अपने पिता ब्रह्मजीत के साथ अनाज मंडी खरखौदा में गेहूं बेचने के लिए आया हुआ था। वहां पर पवन ने पैसे को लेकर अपने पिता ब्रह्मजीत के साथ झगड़ा किया था। वहां पर मौजूद लोगों ने बाप-बेटे को समझा बुझाकर घर भेज दिया था। इस वक्त पवन अपने पिता को जान से मारने की धमकी दे रहा था। सुबह उन्हें सूचना मिली कि ब्रह्मजीत और सुमित्रा का शव गांव नौनंद के झाड़ियों में पड़ी हुई है। दोनों मुंह और सिर पर चोट लगी हुई है। घर पर चारपाई खून से सनी हुई। राममेहर ने अपने भांजे पवन पर ही सुमित्रा और ब्रह्मजीत की हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने पवन के खिलाफ के दर्ज कर उसे काबू कर लिया है।