पेड़ गिरने से टूटी रत्ताखेड़ा माइनर, 150 एकड़ में जलभराव, 100 घरों में पानी घुसा

  • नहर को पाटने में 4 जेसीबी लगा किया कंट्रोल, 5 घरों की दीवारें टूट गईं

दैनिक भास्कर

May 04, 2020, 05:15 AM IST

फतेहाबाद. फतेहाबाद रोड स्थित रामनगर कॉॅलोनी के पास शनिवार रात करीब एक बजे शहर के गुजरने वाली रत्ताखेड़ा माइनर में पेड़ गिर गया। पेड़ गिरने से नहर ओवरफ्लो होकर टूट गई। नहर टूटने से राम नगर कॉॅलोनी व जाखन दादी के खेतों में पानी घुस गया। शहर वासियों व ग्रामीणों को नहर टूटने का पता रविवार सुबह 4 बजे लगा। सूचना सिंचाई विभाग व पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर सिंचाई विभाग के एसडीओ बलराज सिंह, जेई हवा सिंह मौके पर पहुंचे। कुदनी हैड से नहर को बंद करवाया गया। पता चलने पर विधायक लक्ष्मण नापा ने भी जायजा लिया।
ऐसे टूटी नहर
शहर के बीच से रत्ताखेड़ा माइनर गुजरती है। नहर की क्षमता 182 क्यूसिक पानी की है। नहर में मौजूदा समय में करीब 170 क्यूसिक पानी चल रहा था। रात एक बजे के करीब नहर किनारे लगे पेड़ नहर में गिर गये। इससे नहर ओवरफ्लो हो गई। नहर ओवरफ्लो होने से नहर का पानी बाहर आ गया अाैर एक साईड का नहर का किनारा टूट गया। इससे किनारे में करीब 200 फुट कटाव हो गया। कटाव के चलते पानी खेतों में जाने लगा। साथ लगते जाखन दादी के खेतों में पानी भर गया। पानी करीब 150 एकड़ तक फैल गया। हालांकि इससे खेतों में गेहूं कटाई का काम निपट जाने से फसलों काे नुकसान नहीं हुआ, लेकिन किसानों का हरा चारा, तूड़ी खराब हो गई। इससे ढाणियों व नहर किनारे बने करीब 120 घरों में पानी चल गया। 5 घरों की दीवारें टूट गई जिससे मकानों की छतें भी गिर गई। नहर से शहर की राम नगर कालोनी की तरफ भी पानी बहना शुरु हो गया जिससे 30 घरों में पानी घुस गया। लोगों ने मिट्टी लगाकर पानी रोका। सुबह 7 बजे सिंचाई विभाग की टीम पहुंची। कुदनी हैड से नहर को बंद करवाया। 4 जेसीबी से कटाव को बंद किया गया। इसमें दो घंटे लग गए। कॉलोनीवासी शीशपाल सिंह, तरसेम सिंह, जीत सिंह, कैला सिंह, बलबीर सिंह, जगसीर सिंह, दर्शन सिंह ने बताया कि सुबह 5 बजे घर के आंगन में पानी घुसने पर नहर टूटने का पता चला।

कटाव को भर दिया गया है-एसडीओ
सिंचाई विभाग के एसडीओ बलराज सिंह ने बताया कि पेड़ गिरने से नहर टूट गई। नहर के कटाव को मिट्टी से भर दिया गया है।