नकली मरीज बनाकर एंबुलेंस में दिल्ली से पंजाब ले जा रहे थे हेरोइन, तीन आरोपी गिरफ्तार

  • 1 आरोपी पंजाब के मुक्तसर का रहने वाला जबकि 2 आरोपी भठिंडा के रहने वाले हैं
  • दिल्ली से हेरोइन लेकर हरियाणा के फतेहाबाद से पंजाब में करना था एंट्र

फतेहाबाद. नशा तस्करी लॉकडाउन में भी रूकने का नाम नहीं ले रही है। नकली मरीज बनाकर एंबुलेंस में दिल्ली से हेरोइन लेकर पंजाब जा रहे तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। पुलिस ने इनके कब्जे से लाखों रुपये की हेरोइन बरामद की है। पकड़े गए युवकों की पहचान हरदीप सिंह उर्फ दीप निवासी गांव बादल जिला मुक्तसर (पंजाब), राजू सिंह निवासी बाबा दीप सिंह नगर भठिंडा व रतन सिंह उर्फ हरप्रीत सिंह निवसी अजीत रोड, भठिंडा के रूप में हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार सीआईए स्टाफ फतेहाबाद की टीम एसआई महेन्द्र सिंह के नेतृत्व में नेशनल हाइवे पर गश्त कर रही थी। इस दौरान पुलिस को सूचना मिली कि एक एंबुलेंस में पंजाब के तीन लड़के हेरोइन लेकर जाने वाले है। इनमें से एक युवक को नकली मरीज बनाकर एंबुलेंस में लिटाया गया है। ये लोग दिल्ली से हेरोइन लेकर फतेहाबाद होते हुए वापस पंजाब जाएंगे।

दो युवक आगे की सीटों पर बैठे थे जबकि एक को सीट पर लेटाया हुआ था।

इस सूचना के बाद पुलिस टीम ने गांव खाराखेड़ी में जवाहर नवोदय विद्यालय के समीप नाकाबंदी कर वाहनों की जांच शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस ने हिसार की ओर से आ रही एम्बुलेंस को रूकने का इशारा किया। पुलिस ने देखा कि एंबुलेंस में दो युवक आगे की सीट पर बैठे हुए थे जबकि एक युवक पीछे स्ट्रेचर पर लेटा हुआ था। उसके दोनों हाथों पर आग से जलने के पुराने निशान थे।

पुलिस ने जब तीनों से पूछताछ की तो उन पर शक हुआ। इस पर पुलिस ने इस बारे डीएसपी सुभाष चन्द्र को सूचना दी। सूचना मिलते ही डीएसपी भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने जब तलाशी ली तो इनके कब्जे से 120 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। पूछताछ में तीनों युवकों ने बताया कि वे तीनों हेरोइन तस्करी का धंधा करते हैं और पुलिस से बचने के लिए मरीज का बहाना करके दिल्ली से यह हेरोइन खरीदकर लाए थे। पुलिस ने तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के अलावा लॉकडाउन व धारा 144 की उल्लंघना के आरोप में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।