चरखी दादरी में बुजुर्ग की बेदर्दी से हत्या, विधायक और एसपी मौके पर पहुंचे, भारी पुलिस बल भी मौजूद।

दादरी-चंडीगढ़ मुख्यमार्ग स्थित गांव लांबा अड्डे पर चाय का खोख चलाने वाले बुजुर्ग की शनिवार रात अज्ञात ने गला रेतकर हत्या कर दी। रविवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे परिजनों को वारदात का पता चला। मृतक की पहचान लांबा निवासी रिसाल सिंह (72) के रूप में हुई। मृतक के पैरों पर डंडों से पिटाई के निशान भी मिले हैं।  मौके पर पहुंची पुलिस टीम को ग्रामीणों ने हत्यारोपियों की गिरफ्तारी होने तक शव न उठाने की बात कही। जिसके बाद एसपी बलवान सिंह राणा और विधायक सोमबीर सांगवान उन्हें आश्वस्त करने पहुंचे। एसपी के आश्वासन के बाद ग्रामीण शव का पोस्टमार्टम करवाने को तैयार हो गए। मृतक का पोस्टमार्टम सिविल अस्पताल में चिकित्सकों के बोर्ड से करवाया जाएगा। जानकारी के अनुसार रिसाल सिंह पिछले 12 सालों से गांव के अड्डे पर चाय का खोखा चलाता था। वह रात को दुकान पर ही सोता था। शनिवार रात करीब आठ बजे उसका बेटा सोमबीर खाना देकर घर गया था। सुबह करीब पांच गांव में अखबार डालने पहुंचे वितरक को रिसाल सिंह मृत मिला। समाचार पत्र वितरक ने तत्काल इसकी सूचना करीब 200 मीटर दूर स्थित पूर्व सरपंच के घर जाकर दी। इसके बाद जानकारी मिलने पर ग्रामीण और मृतक रिसाल सिंह के परिजन भी मौके पर पहुंचे।

चरखी दादरी में बुजुर्ग की बेदर्दी से हत्या, विधायक और एसपी मौके पर पहुंचे, भारी पुलिस बल भी मौजूद।